• search

छुरा भोंकने के आरोप पर अमरीका का तुर्की को जवाब

By Bbc Hindi
Subscribe to Oneindia Hindi
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts
    रेचेप तैय्यप एर्दोआन, डोनल्ड ट्रंप
    AFP
    रेचेप तैय्यप एर्दोआन, डोनल्ड ट्रंप

    लीरा की क़ीमतों में लगातार गिरावट के बाद व्हाइट हाउस ने कहा है कि वो तुर्की के आर्थिक हालात पर क़रीब से निगाह बनाए हुए है. हालांकि ट्रंप प्रशासन ने इस बात से इनकार किया है कि तुर्की में आर्थिक संकट की वजह अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के फ़ैसले नहीं है.

    अमरीका ने तुर्की से होने वाले एल्युमीनियम और स्टील उत्पादों के आयात पर शुल्क बढ़ा दिया है.

    इससे पहले तुर्की के राष्ट्रपति रेचेप तैय्यप अर्दोआन ने अमरीका पर तुर्की की पीठ में छुरा भोंकने का आरोप लगाया था.

    उन्होंने कहा, ''एक तरफ़ आप हमारे कूटनीतिक सहयोगी होने का दावा करते हैं, दूसरी तरफ़ आप हम पर हमला करने जा रहे हैं? यह अस्वीकार्य है. हम अफ़गानिस्तान, सोमालिया और नैटो में साथ काम कर रहे हैं और अचानक एक सुबह आप हमारी पीठ में छुरा घोंप देते हैं. यह मंजूर नहीं होगा.''

    लीरा
    Reuters
    लीरा

    तुर्की की मुद्रा हुई कमजोर

    व्हाइट हाउस के आर्थिक सलाहकार केविन हैसेट का कहना है कि तुर्की में अमरीकी एल्युमीनियम और स्टील सेक्टर बहुत छोटा है इसलिए वहां के आर्थिक संकट के लिए ट्रंप प्रशासन के फ़ैसले को ज़िम्मेदार नहीं ठहाराया जाना चाहिए.

    बीबीसी के आर्थिक मामलों के संवाददाता भी इससे इत्तेफ़ाक रखते हैं. उनका कहना है कि तुर्की अपने बाजारों पर काबू करने में बुरी तरह नाकाम रहा है.

    हालांकि के तुर्की के केंद्रीय बैंक के कुछ फ़ैसलों से लीरा पर दबाव आंशिक रूप से कम हुआ है. वहीं, कुछ सरकार समर्थक कारोबारी उन लोगों को खरीदारी में छूट दे रहे हैं जिन्होंने लीरा को डॉलर, यूरो या सोने से बदला है.

    कुछ दिनों पहले लीरा की गिरती क़ीमत से चिंतित अर्दोआन ने तुर्की के लोगों से लीरा के बदले विदेशी मुद्रा बदलने की भावुक अपील की थी.

    तुर्की को जर्मनी का समर्थन

    इस बीच जर्मनी भी तुर्की के समर्थन में उतर आया है. जर्मन चांसलर एंगेला मर्केस ने कहा कि तुर्की की अर्थव्यवस्था चरमराने से किसी को कोई फ़ायदा नहीं होगा.

    रेचेप तैय्यप एर्दोआन, डोनल्ड ट्रंप
    AFP
    रेचेप तैय्यप एर्दोआन, डोनल्ड ट्रंप

    उन्होंने कहा, ''अगर यूरोपीय संघ के आस-पास स्थिर आर्थिक माहौल है तो हमें इसका फ़ायदा मिलता है इसलिए हम सबको ऐसा माहौल बनाने में मदद देनी चाहिए. जर्मनी तुर्की को आर्थिक रूप से समृद्ध देश के तौर पर देखना चाहेगा. इसमें हमारी भी भलाई है.''

    अमरीका ने पिछले हफ़्ते तुर्की से आयातित स्टील और एल्युमिनियम उत्पादों पर लगने वाला कर बढ़ाकर दोगुना कर दिया था और इसके बाद तुर्की की मुद्रा लीरा में रिकॉर्ड गिरावट दर्ज की गई थी.

    इसके बाद अर्दोआन ने कहा था कि अगर अमरीका अपने रुख़ में तब्दीली नहीं लाता है तो तुर्की अपने लिए नए दोस्त और सहयोगी तलाशेगा.

    एंड्र्यू ब्रुसन
    Getty Images
    एंड्र्यू ब्रुसन

    अमरीका और तुर्की के बीछ बढ़ते तनाव की वजह एंड्र्यू ब्रुसन नाम के एक पादरी को भी बताया जा रहा है.

    तुर्की ने उन्हें साल 2016 के नाकाम तख़्तापलट के साज़िशकर्ताओं से संपर्क होने के आरोप में उन्हें हिरासत में लिया था. अमरीका उनकी रिहाई की मांग कर रहा है.

    हालांकि ब्रुसन अमरीका और तुर्की के बीच बढ़ते तनाव की इकलौती वजह नहीं हैं. इसके पीछे सीरिया के लिए तुर्की की नीतियां और रूस से बढ़ती नज़दीकियां भी शामिल हैं.

    ये भी पढ़ें: इस पाकिस्तान का कितना उद्धार कर पाएंगे इमरान?

    चीन में मस्जिद ढहाए जाने की तैयारी, रोकने पर अड़े मुसलमान

    कैंसर के बदले लगभग 29 करोड़ डॉलर देगी मोन्सेंटो

    (बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

    जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

    BBC Hindi
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    America responds to the charge of stabbing to Turkey

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

    X