• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अमेरिका में कोरोना से मौत का आंकड़ा 5 लाख पार, एक महीने में एक लाख और मरे, लोग बताते हैं ट्रंप को जिम्मेदार

|

वाशिंगटन: विश्व की सबसे बड़ी शक्ति अमेरिका कैसे कोरोना के आगे बेबस है, इसका अंदाजा इसी से लगा सकते हैं कि अमेरिका में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 5 लाख पार कर गई है। विश्व के किसी भी कोने में एक भी अमेरिकी की मौत के बाद उस देश पर हमला तक कर देने वाला अमेरिका अपनी बेबसी पर आंसू बहा रहा है। रविवार को अमेरिका के सरकारी आंकड़ों के मुताबिक कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 5 लाख पार कर गई है।

CORONA VIRUS
    Coronvirus In America : US में COVID-19 से करीब 5 Lakh लोगों की मौत | वनइंडिया हिंदी

    अमेरिका में 5 लाख मौतें

    पिछले साल फरवरी में अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कोरोना वायरस को कभी वहम तो कभी चीनी साजिश बता रहे थे और उन्होंने कोरोना वायरस से पार पाने के लिए एक भी कदम नहीं उठाए। जिसका खामियाजा अभी तक अमेरिका भुगत रहा है और आगे भी भुगतता रहेगा। अमेरिका में कोरोना वायरस घर घर तक पहुंच चुका है और न्यूयॉर्क, कांस, मिसिसिपी, वाशिंगटन जैसे अत्याधुनिक शहर कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित रहे हैं। अमेरिका के महामारी विशेषज्ञ डॉ. एंटनी फॉसी के के मुताबिक, अमेरिका ने किसी महामारी का ये रूप 102 सालों बाद देखा है। 102 साल पहले 1918 में इंफ्लुएंजा महामारी ने भी ऐसा ही कहर बरपाया था। अमेरिका में 19 जनवरी को कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 4 लाख हो गई थी और एक महीने में एक लाख और मरीजों ने जान गंवाई है। अमेरिका के मेडिकल एक्सपर्ट बताते हैं कि अमेरिका की इस दुर्दशा के लिए अगर कोई एक आदमी सबसे ज्यादा जिम्मेदार है तो वो हैं पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप। जिन्होंने अमेरिका को बचाने के सारे मौके अपने हाथ से जाने दिए। डॉ. फॉसी के मुताबिक अगला साल भी अमेरिका का कोरोना से जूझते हुए ही निकलने वाला है।

    DONALD TRUMP

    अमेरिका में कोरोना का एक साल

    पिछले साल फरवरी में अमेरिका के कैलिफोर्निया में कोरोना वायरस से पहली मौत हुई थी और अगले 4 महीने में अमेरिका में इस जानलेवा वायरस की वजह से एक लाख मौतें हो गईं। सितंबर 2020 में अमेरिका में कोरोना वायरस की वजह से 2 लाख लोग काल के गाल में समा चुके थे तो दिसंबर 2020 तक कोरोना वायरस की वजह से 3 लाख लोगों की मौत हो चुकी थी। अमेरिका के नये राष्ट्रपति जो बाइडेन के शपथ ग्रहण से ठीक 2 दिन पहले यानि 18 जनवरी को अमेरिका में कोरोना वायरस की वजह से मौतों का आंकड़ा 4 लाख पार कर गया और अब ताजा आंकड़ों के मुताबिक अमेरिका में कोरोना वायरस की वजह से पांच लाख लोग मारे जा चुके हैं।

    चरमरा चुकी हैं स्वास्थ्य व्यवस्थाएं

    अमेरिका में वैक्सीनेशन प्रोग्राम बेहद तेजी के साथ चलाने की कोशिश की जा रही है मगर वैक्सीन की किल्लत लोगों की जिंदगी पर अब भी भारी पड़ रही है। वहीं, अस्पतालों में ICU बेड्स की काफी कमी हो चुकी है। अस्पताल में भर्ती होने वाले क्रिटिकल मरीजों को भी ICU बेड या वेंटिलेटर नहीं मिल पाता है। लॉस वेगास की रहने वाली जॉयस विलिस की आंखों में आसू हैं और वो बताती हैं कि अस्पताल में कोरोना वायरस संक्रमित उनके पति और उनकी सास भर्ती थीं मगर उन्हें वेंटिलेटर नहीं मिल पाया और दोनों की मौत हो गई। कुछ दिनों बात जॉयस के ससुर भी कोरोना वायरस के संपर्क में आए और उन्होंने भी दम तोड़ दिया। एक महीने पहले जॉयस विलिस के पास पूरा परिवार था मगर अब वो घर में पूरी तरह अकेली हैं। अमेरिका में सैकड़ों ऐसे परिवार हैं जिन्होंने अपना सबकुछ खो दिया है।

    पूरी दुनिया में अभी तक कोरोना वायरस की वजह से 25 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है जिनमें सबसे ज्यादा मौतें अमेरिका में हुई हैं। हालांकि अब संभावना जताई जा रही है कि वैक्सीनेशन के बाद अमेरिका में मौतों का सिलसिला थमेगा मगर जून खत्म होते होते अमेरिका में मौत का आंकड़ा 6 लाख के आंकड़े को पार कर जाएगा।

    भारत की वैक्सीन डिप्लोमेसी का मुरीद हुआ UN, चिट्ठी लिखकर कहा- महामारी के दौर में भारत बना ग्लोबल लीडर

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Half million people have died due to Corona virus in the US. Even after the vaccination program, the chain of deaths has not stopped.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X