पश्चिम बंगाल: फर्जी फोटो वायरल करने वाले 1 शख्स को किया अरेस्ट

Subscribe to Oneindia Hindi

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के बशीरहाट में फैली हिंसा के दौरान सोशल मीडिया पर फर्जी फोटो वायरल करने के आरोप में 1 शख्स को गिरफ्तार किया गया है। कोलकाता पुलिस ने बताया कि भोजपुरी की एक फिल्म के सीन की फेक फोटो शेयर कर कुछ लोग सांप्रदायिक हिंसा फैलाने की कोशिश कर रहे थे।

पश्चिम बंगाल: फर्जी फोटो वायरल करने वाले 1 शख्स को किया अरेस्ट

पुलिस ने जानकारी दी कि जिस तस्वीर को पश्चिम बंगाल को बताया जा रहा है, असल में वो साल 2014 में रिलीज हुई भोजपुरी फिल्म 'औरत खिलौना नहीं' का एक सीन है। हरियाणा की एक भाजपा नेता ने अपने फेसबुक वॉल पर भोजपुरी फिल्म के एक सीन की तस्वीर साझा कर बताया था कि यह बंगाल में भड़के सांप्रदायिक दंगे की तस्वीर है।

ये भी पढ़ें: बंगाल में पुलिस अधिकारी से बोले बीजेपी सांसद, विशेषाधिकार प्रस्ताव आया तो मर जाओगे

पुलिस ने कहा

वहीं पश्चिम बंगाल पुलिस की ओर से भी कहा गया है कि कुछ लोग पश्चिम बंगाल में अन्य देशों और इलाकों के पुराने वीडियो पोस्ट कर रहे हैं. यह गलत है पुलिस ने कहा है कि तथ्यों की जांच करें। हम सभी से अपील करते हैं कि दुर्भावनापूर्ण वीडियो पर ध्यान ना दें, जिससे कि समुदायों में किसी भी तरह की गलतफहमी पैदा हो।

ममता ने भाजपा पर लगाया आरोप

वहीं राज्य की मुख्मंत्री ममता बनर्जी ने भाजपा पर आरोप लगाया है कि पश्चिम बंगाल की सीमा पर विदेशी ताकतों की मदद से तनाव बढ़ाया गया है, इन लोगों से भाजपा का संबंध है। ममता बनर्जी ने बंगाल में हिंसा पर केंद्र सरकार पर भी अपना गुस्सा फोड़ा, उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार का रवैया सहयोग करने वाला नहीं है, विदेशी ताकतों की मदद से बंगाल की सीमा के इलाकों में तनाव बढ़ाया गया है।

ये भी पढ़ें: कैफ ने ट्वीट कर कहा, पैगंबर मोहम्मद साहब के नाम पर हिंसा शर्मनाक

इसके साथ ही ममता बनर्जी ने दार्जिलिंग के लोगों से अपील की है कि वह हिंसा नहीं करें और शांति बनाए रखे। उन्होंने कहा कि आपस में बात करके समस्या का समाधान निकाला जा सकता है, यह लोकतंत्र का हिस्सा है। पश्चिम बंगाल की हिंसा की ममता बनर्जी ने न्यायिक जांच कराने का भी आदेश दिया है, इस मामले में उन्होंने कहा कि वह बदूरिया और बशीरहाट में हिंसा की जांच कराएंगी।

इस हिंसा में लापरवाही बरतने के आरोप में 10 आईपीएस अधिकारियों का भी तबादला कर दिया गया है, इसके साथ ही पूर्वी 24 परगना में सी सुधाकर को नया एसपी बनाया गया है, जबकि भाष्कर मुखर्जी को यहां से हटा दिया गया है।

ये है मामला

फेसबुक पर एक व्यक्ति ने विवादित पोस्ट किया था, जिसके बाद हिंसा हो गई। इसके बाद लोगों ने विरोध प्रदर्शन करते हुए सड़कें ब्लॉक कर दी थीं। इसके बाद पुलिस ने आंसू गैस के गोले भी दागे थे।

जिस शख्स ने सोशल मीडिया पर यह पोस्ट की थी, उसे पुलिस ने गिरफ्तार भी कर लिया है। शख्स को कोर्ट के सामने पेश भी किया गया, जिसके बाद उसे बसीरहाट जेल भेज दिया गया है।

ये भी पढ़ें: '...तो फिर ख़ुदा ही मुसलमानों की ख़ैर करे!'

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
West Bengal Violence: One Arrested For Sharing Fake Image
Please Wait while comments are loading...