• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

मोदी और भारत की बात आने पर ट्रंप ने क्यों कहा हम बेवकूफ नहीं हैं

|

नई दिल्ली- अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिकी मोटरसाइकलों पर भारत में लगने वाली भारी टैरिफ पर बहुत नाराजगी जताई है। उनका कहना है कि भारत ने भले ही अमेरिकी मोटरसाइकिलों पर इंपोर्ट टैरिफ 50 फीसदी कर दिया हो, लेकिन यह अभी भी बहुत ज्यादा है और उन्हें मंजूर नहीं है।

जानिए क्या है वो ऐतिहासिक Israel-UAE Peace Deal जिस पर Nobel के लिए हुआ ट्रंप का नामांकन

हम बेवकूफ नहीं- ट्रंप

हम बेवकूफ नहीं- ट्रंप

अमेरिकी मोटरसाइकल हार्ले डेविडसन पर भारत में लगने वाली इंपोर्ट ड्यूटी पर एक बार फिर अमेरिकी राष्ट्रपति ने अपनी नाराजगी जताई है। डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि उनकी अगुवाई वाले अमेरिका को अब और ज्यादा बेवकूफ नहीं बनाया जा सकता। ट्रंप ने कहा है कि, "हम बेवकूफ देश नहीं हैं, जिसे बुरी तरह से बनाया गया है। आप भारत को देखिए,जो हमारा अच्छा दोस्त है, प्रधानमंत्री मोदी आप देखिए आपने क्या किया है, एक मोटरसाइकिल पर 100 फीसदी टैक्स। हम उनसे कोई चार्ज नहीं लेते हैं।" ट्रंप ने सोमवार को सीबीएस न्यूज को दिए एक इंटरव्यू में ये बातें कही हैं। ट्रंप के लिए यह मुद्दा काफी अहम है और वो चाहते हैं कि भारत इस पर लगाई जा रही सारी ड्यूटी खत्म कर दे।

व्यापार घाटा कम करना चाहता है अमेरिका

व्यापार घाटा कम करना चाहता है अमेरिका

ट्रंप ने का कहना है कि जब अमेरिका मोटरसाइकिलें भेजता है तो भारत उस पर ज्यादा टैक्स लगता है। लेकिन, जब भारत से मोटरसाइकिलें भेजी जाती हैं तो वहां कोई भी टैक्स नहीं लगता। ट्रंप ने कहा कि उन्होंने पीएम मोदी से इस मुद्दे पर बात की है और कहा है कि यह हरगिज मंजूर नहीं है। ट्रंप ने ये भी दावा किया कि पीएम मोदी ने उनके एक फोन कॉल पर 50 फीसदी टैक्स कम कर दिया। लेकिन, अभी भी यह 50 फीसदी बनाम कुछ भी नहीं है। इसलिए उन्हें यह कबूल नहीं है। ट्रंप ने इशारे में कहा है कि दोनों देश इसपर बातचीत कर रहे हैं और कहा कि भारत अमेरिकी मोटरसाइकिलों पर लगने वाली इंपोर्ट टैरिफ पर काम कर रहा है। आपको बता दें कि हार्ले डेविडसन मोटरसाइकिल पर टैक्स को लेकर ट्रंप पहले भी ऐसा बयान देते रहे हैं। एक और सवाल के जवाब में अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि हम ऐसे बैंक बन गए हैं, जिसे हर कोई लूटना चाहता है। उनके मुताबिक इसी कारण से अमेरिका का व्यापार घाटा 800 बिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंच गया है। एक तरह से उन्होंने अपनी पूर्ववर्ती सरकारों पर ही सवाल उठाने की कोशिश की है।

इसी महीनें होगी पीएम मोदी से मुलाकात

इसी महीनें होगी पीएम मोदी से मुलाकात

माना जा रहा है कि बहुत बड़े मैनडेट से दोबारा सत्ता में आने के चलते अमेरिका की मोदी सरकार से उम्मीदें काफी बढ़ गई हैं। उसे लगता है कि अब भारत सरकार के पास इकोनॉमिक रिफॉर्म्स को आगे बढ़ाने के लिए ज्यादा आजादी रहेगी। गौरतलब है कि इस महीने के अंत में जापान के ओसाका में जी-20 समूह की बैठक के दौरान पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की मुलाकात होने वाली है। हो सकता है कि उस दौरान भी ट्रंप हार्ले डेविडसन मोटरसाइकिल का मसला जरूर उठाएं।

इसे भी पढ़ें- पाकिस्‍तान होते हुए किर्गिस्‍तान जाएंगे पीएम मोदी, एयरस्‍पेस खोलने को राजी इमरान सरकार

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
We're not the foolish country that does so badly: Donald Trump
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X