• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Covid 19: देश में 62 लाख से अधिक रिकवरी दर्ज: स्वास्थ्य मंत्रालय

|

नई दिल्ली। भारत में कोरोना का कहर जारी है, क्या आम और क्या खास सभी इस महामारी की चपेट में हैं, देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 55,342 नए मामले सामने आए हैं और 706 मरीजों की मौत हुई है, जबिक देश में पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या 71,75,881 हो गई है, जिसमें 8,38,729 सक्रिय मामले, 62,27,296 रिकवर मामले और 1,09,856 मौतें शामिल हैं। बता दें कि पिछले 5 हफ्तों से कोरोना वायरस के दैनिक औसत नए मामलों में लगातार गिरावट आ रही है।

जन आंदोलन फॉर कोविड-19 कैंपन शुरू करेगा स्वास्थ्य मंत्रालय
    Coronavirus India Update: देश के 10 States में कोरोना के 79 Percent मामले | वनइंडिया हिंदी

    इस बारे में मंगलवार को स्वास्थ्य मंत्रालय ने जानकारी देते हुए कहा कि देश में जैसे-जैसे टेस्ट बढ़ रहे हैं, वैसे-वैसे पॉजिटिविटी कम हो रही है। औसतन हम 11 लाख 36 हजार टेस्ट रोज कर रहे हैं, देश में कुल कोरोना केस के 86.78 फीसदी लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि ऐक्टिव केस 11.69 फीसदी हैं और अब तक 1.53 फीसदी कोरोना मरीजों की मौत हुई है। हेल्थ मिनिस्टरी ने कहा कि 17 साल से उम्र के 1 फीसदी कोरोना मरीजों की मौत हुई है, जबकि 18 से 25 साल की उम्र के 1 फीसदी मरीजों की मौत कोरोना से हुई है, जबकि 26 से 44 साल की उम्र में 10 फीसदी लोगों की मौत शिकार हुए हैं, जबकि 45 से 60 की उम्र के लोगों में 35 फीसदी की मौत हुई है तो वहीं 60 साल से ज्यादा की उम्र के लोगों में 53 फीसदी मृत्युदर है।

    'जन आंदोलन फॉर कोविड-19'

    मंत्रालय ने कहा कि कोरोना को देखते हुए वो एक कैंपेन शुरू करने जा रहा है , जिसका नाम 'जन आंदोलन फॉर कोविड-19' रखा गया है। इसके जरिए 90 करोड़ लोगों को टारगेट करने का लक्ष्य रखा गया है, अक्टूबर-नवंबर में इस कैंपेन पर जोर होगा। हालांकि कई स्तरों पर यह कैंपेन मार्च तक चलेगा, इस कैंपेन में सार्वजनिक स्थानों पर जागरूकता के लिए पोस्टर बैनर लगाए जाएंगे। इसमें फ्रंटलाइन वर्कर्स को शामिल किया जाएगा। सरकारी स्कीम के लाभुकों को जोड़ा जाएगा, प्राइवेट सेक्टर को भी जोड़ा जाएगा। 14 राज्यों में प्रति 10 लाख की आबादी पर टेस्ट राष्ट्रीय औसत से ज्यादा है, लेकिन उनकी पॉजिटिविटी रेट राष्ट्रीय औसत से कम है।

    जन आंदोलन फॉर कोविड-19 कैंपन शुरू करेगा स्वास्थ्य मंत्रालय

    तो वहीं नीति आयोग ने कहा कि देश में स्थिरता आ रही है, मृत्यु दर भी काबू में हैं, कुछ राज्यों को लेकर चिंताएं हैं, हमारी एक चिंता है कि सर्दी के मौसम में इस वायरस का प्रकोप बढ़ सकता है इसलिए हमें सर्दी के मौसम में हमें और भी सावधानी बरतने की जरूरत है। यूरोप और अमेरिका में सर्दी की वजह से मामलों में फिर से काफी तेजी आ रही है, 2 स्वदेशी वैक्सीन के फेज 2 ट्रायल फाइनल स्टेज में है। सीरम की वैक्सीन का निर्माण भी हो रहा है और उसका फेज 3 ट्रायल चल रहा है, ट्रायल के नतीजे नवंबर अंत या दिसंबर तक आने की उम्मीद है।

    स्थिति पहले से बेहतर है: स्वास्थ्य मंत्रालय

    आपको बता दें कि मंत्रालय द्वारा मंगलवार को जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, देश में रोजाना सामने आने वाले मामलों में कमी देखी जा रही है। रविवार को कोरोना के 74,383 मामले, सोमवार को 66,732 और मंगलवार को 55342 दर्ज किए गए। वहीं मृतकों की संख्या में भी कमी आ रही है। रविवार को कोविड-19 के कारण 918, सोमवार को 816 और मंगलवार को 706 मरीजों की मौत हुई है। इसके अलावा देश में संक्रमित लोगों के स्वस्थ होने की दर 86.17 प्रतिशत हो गई है।

    यह पढ़ें: देश में 24 घंटों के भीतर मिले कोरोना के 55 हजार से ज्यादा केस, 706 मरीजों की हुई मौत

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Now We are Better, have decided to launch an intensive campaign, ‘Jan Andolan for COVID-19 Appropriate Behaviour said Health Ministry.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X