• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

उपेंद्र कुशवाहा ने ऑफर को ठुकराते हुए बीजेपी को दिया अल्टीमेटम, कहा अब केवल पीएम से करेंगे बात

|

पटना। मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री और राष्‍ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के अध्‍यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने साफ कर दिया है कि उनकी पार्टी सीट शेयरिंग के मुद्दे पर अंतिम बात होने तक एनडीए में बनी रहेगी। हालांकि, उन्‍होंने बीजेपी को अल्‍टीमेटम भी दिया है। पटना में पत्रकारों से बात करते हुए उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि बीजेपी ने उन्‍हें जो ऑफर दिया था, वह सम्‍मानजनक नहीं था, इसलिए उन्‍होंने उस ऑफर को ठुकरा दिया। उन्‍होंने यह भी कहा कि अब वह किसी और से नहीं बल्कि सिर्फ पीएम नरेंद्र मोदी से ही मुलाकात करेंगे। उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि उन्होंने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से कई बार मिलने की कोशिश की है, लेकिन मुलाकात नहीं हो पाई है। उन्‍होंने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के दौरान नीतीश कुमार पर भी जमकर भड़ास निकाली।

उपेंद्र कुशवाहा की चेतावनी- यही स्थिति रही तो लेना पड़ेगा निर्णय

उपेंद्र कुशवाहा की चेतावनी- यही स्थिति रही तो लेना पड़ेगा निर्णय

रालोसपा अध्‍यक्ष ने कहा कि हमने भाजपा का तब साथ दिया जब उनको इसकी जरूरत थी। बीजेपी को सोचना है कि हमारे अलग होने से एनडीए को कितना नुकसान होगा। उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि जिस स्थिति में ये बात पहुंची है अगर यही स्थिति रही तो इसका निर्णय हमें लेना पड़ेगा। हाल ही में बिहार में एनडीए के बीच सीट शेयरिंग को लेकर जो फार्मूला सामने आया है, इसमें भाजपा और जेडीयू के बीच 17-17 सीटों पर चुनाव लड़ने के लिए सहमति बनी है। रामविलास पासवान के लिए 6 सीटें दी जाएंगी। सीट बंटवारे के इस फार्मूले में उपेंद्र कुशवाहा के लिए एक भी सीट नहीं है। अब ऐसा क्‍यों किया गया? कुशवाहा को कितनी सीटें ऑफर की गईं? इस बारे में तो जानकारी नहीं है, लेकिन उपेंद्र कुशवाहा ने स्‍पष्‍ट कर दिया है कि सीट बंटवारे पर अंतिम बात तक उनकी पार्टी एनडीए में बनी हुई है।

'नीच' वाले बयान पर माफी मांगें नीतीश कुमार

'नीच' वाले बयान पर माफी मांगें नीतीश कुमार

उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि रालोसपा कार्यकारिणी की बैठक में प्रस्ताव पारित किया गया कि नीतीश कुमार अपने आपत्तिजनक शब्दों के लिए सार्वजनिक तौर पर माफी मांगें। बिहार के मुख्यमंत्री ने उनके लिए जिस तरह की अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल किया है, इससे पार्टी कार्यकर्ताओं में आक्रोश है। उपेंद्र कुशवाहा ने आगे कहा, 'हमारी पार्टी को तोड़ने की निरंतर कोशिश चल रही है। इसमें अव्‍वल भूमिका माननीय नीतीश कुमार जी कह रहती है। नीतीश कुमार आज से नहीं बल्कि बहुत पहले उपेंद्र कुशवाहा, उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी को, उपेंद्र कुशवाहा के अभियान को बर्बाद करो, इस काम में लगे हैं। हम लोग विरोध में थे तो अलग बात थी, लेकिन एनडीए में आने के बाद भी उनका यह रवैया जारी रहा, यह दुर्भाग्‍यपूर्ण है।

28 नवंबर को ऊंच-नीच दिवस मनाने का ऐलान

28 नवंबर को ऊंच-नीच दिवस मनाने का ऐलान

नीतीश के 'नीच' वाले बयान के विरोध में उपेंद्र कुशवाहा ने 28 नवंबर को ऊंच-नीच दिवस मनाने का ऐलान किया है। जिला मुख्यालयों पर कुशवाहा की पार्टी ऊंच-नीच मानसिकता विरोध दिवस भी मनाएगी। उन्‍होंने आरोप लगाया कि बिहार में शिक्षा व्यवस्था बहुत खराब है। महात्मा फुले की पुण्यतिथि पर 28 नवंबर से ही कुशवाहा पूरे राज्य में शिक्षा सुधार जन-जन का अधिकार अभियान की भी शुरुआत करेंगे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
after party meet, Upendra Kushwaha says upendra kushwaha will remain in the nda till last seat sharing talks
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X