DDCA मानहनि केस: अरुण जेटली ने अदालत से कहा- केस में लाई जाए तेजी

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने दिल्ली उच्च न्यायालय में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी के पांच के नेताओं के खिलाफ दायर दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) के मानहानि मामले में कार्रवाई में तेजी लाने के लिए आवेदन दायर किया है।

DDCA मानहनि केस: अरुण जेटली ने अदालत से केस में लाई जाए तेजी

जेटली की ओर से दिए आवेदन में कहा गया है कि 'एक व्यक्ति जो उच्च न्यायालय की महिमा और न्यायक्षेत्र को सौंप दिया गया है, उसे क्रॉस इक्जामिनेशन के दौरान भयावह, खराब, आक्रामक और दुर्भावनापूर्ण हमले से बचाया जाना चाहिए।' आवेदन के जरिए अदालत से कहा गया है कि 'यह स्पष्ट है कि प्रतिवादी (केजरीवाल) वर्तमान मुकदमे में मुकदमे में देरी करने की कोशिश कर रहे थे। उन्होंने इस से पहले सबूत की कार्यवाही का मजाक उड़ाया।

जेटली ने कहा है...

जेटली के वकील, माणिक डोगरा ने कहा, 'आवेदक (जेटली) ने आवेदक और उसके परिवार के सदस्यों के खिलाफ हर प्रतिवादियों द्वारा किए गए झूठी दुर्भावनापूर्ण, संगठित और प्रति बदनामी के आरोपों के लिए (10 करोड़ रुपये) की क्षतिपूर्ति की मांग की है।'

बता दें कि अदालत में जब जिरह चल रही थी तो केजरीवाल के वकील राम जेठमलानी ने इस साल चार बार जेटली का क्रॉस इक्जामिनेशन किया था। आवेदन में कहा गया हैकि कार्यवाही के दौरान, जेटली से किए गए सवाल 'अपमानजनक ' थे, आवेदन में कहा। इसके अलावा, जेटली से सवाल 'परेशान करने के लिए' किए गए थे।

इससे पहले 25 मार्च को डीडीसीए प्रकरण में वित्त मंत्री अरुण जेटली की ओर से आपराधिक मानहानि मामले में अदालत ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर मुकदमा चलाने की अनुमति दे दी थी। केजरीवाल के साथ जो अन्य पांच नेता इस मानहानि के मामले में आरोपी हैं उनमें विश्वास कुमार,आशुतोष कुमार, संजय सिंह , राघव चड्ढा और दीपक बाजपेयी शामिल हैं।

GST : Chinese Media reacts on India's GST । वनइंडिया हिंदी

ये भी पढ़ें: अमरनाथ यात्रा पर हमला: PDP के MLA का ड्राइवर हिरासत में, पूछताछ जारी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Union minister arun Jaitley files petition to expedite DDCA trial
Please Wait while comments are loading...