• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

इवांका ट्रंप के चलते महिला भिखारियों को हटाया, बाद में पता चला कितनी अमीर हैं वो

|

हैदराबाद। हैदराबाद पुलिस इन दिनों पॉश इलाकों से भिखारियों को हटाने में जुटी है। सड़कों को साफ-सुथरा करने का काम चल रहा है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप के दौरे के चलते हैदराबाद पुलिस भिखारियों को उठाकर रिहैबिलिटेशन सेंटर में भेज रही है, लेकिन इस दौरान पुलिस के साथ कुछ ऐसा हुआ कि सब हैरान रह गए।

Two ‘rich, educated women’ among beggars shifted to rehab ahead of Ivanka’s Hyderabad visit: Cops

सड़कों से भिखारियों के हटाने के काम के दौरान पुलिस ने दो ऐसी महिला भिखारियों को हटाया जिनकी सच्चाई जानकर वो हैरान रह गए। जिन दो महिलाओं को भिखारी समझकर पुलिस रिहैबिलिटेशन सेंटर लेकर आई थी वो करोड़पति निकलीं। महिलाएं फर्राटेदार अंग्रेजी बोल रही थी। पुलिस ने एक महिला को लंगर होज दरगाह के पास से पकड़ा था, लेकिन जब उसके बैकग्राउंड के बारे में उन्हें पता चला तो दंग रह गएए।

दोनों महिलाएं पढ़ी-लिखी और अमीर घराने से थी। पहली महिला का नाम फर्जोना है, जो लदंन ने पढ़ी-लिखी है और उनका बेटा अमेरिका में नौकरी करता है। महिला मानसिक रूप से बीमार है इसलिए वो भीख मांग रही थी। उनके पास करोड़ों की संपत्ति है। वहीं दूसरी महिला ग्रीन कार्ड होल्डर है और हैदराबाद में उनकी करोड़ों की संपत्ति है। लेकिन संपत्ति विवाद के चलते उनका मानसिक संतुलन बिगड़ गया और किसी संत के कहने पर वो भीख मांगती थी। पुलिस ने दोनों के घरवालों को बुलाकर दोनों महिलाओं को अपने परिवारवालों को सौंप दिया।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Educated and owners of posh apartments--that usually can’t be said about beggars. But the Hyderabad Police found two such women as they were sending beggars to rehabilitation homes.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X