केजरीवाल से नफरत करने वाले भी करेंगे AAP सरकार के इन 3 कामों की तारीफ?

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। दिल्ली में अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में सत्ता संभाल रही आम आदमी पार्टी की सरकार के तीन साल पूरे हो गए हैं। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने सरकार के तीन साल के कार्यकाल को बेमिसाल बताया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में जितना काम पिछले 70 साल में हुआ है, उतना उनकी सरकार ने सिर्फ तीन साल में कर दिखाया है। इससे पहले अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करके कहा कि अब एक-एक पैसा जनता के विकास पे ख़र्च हो रहा है - बिजली, पानी, स्कूल, मोहल्ला क्लीनिक, सड़कें, फ़्लाइओवर। तीन साल पूरा होने पर भले ही अरविंद केजरीवाल जमकर अपनी सरकार की तारीफ कर रहे हों लेकिन विपक्षी पार्टियां उनके दावों पर झूठा करार दे रही हैं। कांग्रेस और बीजेपी ने दोनों ने ही केजरीवाल सरकार पर निशाना साधा है। हालांकि सियासी तौर पर सत्ता पक्ष और विपक्ष में आरोप-प्रत्यारोप का दौर चलता ही रहता है लेकिन अगर हम दिल्ली अरविंद केजरीवाल सरकार के तीन साल के कार्यकाल पर नजर डालें तो उन्होंने तीन ऐसे काम जरूर किए जिनकी तारीफ हर कोई करना चाहेगा। खास तौर आम आदमी को लेकर केजरीवाल सरकार की कोशिशों को लोगों ने सराहा है...

पानी बिल मुफ्त, बिजली आधा

पानी बिल मुफ्त, बिजली आधा

साल 2015 में आम आदमी पार्टी ने चौंकाने वाले अंदाज शानदार जीत दर्ज करते हुए दिल्ली की 70 में से 67 सीटें अपने नाम कर ली थी। सत्ता में आते ही केजरीवाल सरकार ने अपने दो बड़े चुनावी वादे पूरा किया। सत्ता संभालते ही आम आदमी पार्टी की सरकार ने दिल्ली में बिजली के दाम आधे करने का ऐलान कर दिया। बिजली पर 50 फीसदी सब्सिडी की घोषणा सरकार ने की। इसके अलावा दिल्लीवासियों को हर महीने 20 हजार लीटर फ्री पानी देने का ऐलान भी केजरीवाल सरकार ने कर दिया। दोनों ही आदेश 1 मार्च, 2015 से लागू हो गया।

स्वास्थ्य सेवाएं और मोहल्ला क्लिनिक

स्वास्थ्य सेवाएं और मोहल्ला क्लिनिक

केजरीवाल सरकार ने दिल्ली में शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में भी कई जरूरी कदम उठाए। खास तौर से स्वास्थ्य के क्षेत्र में सरकार ने जिस तरह से मोहल्ला क्लिनिक की शुरूआत की, उससे आम लोगों को सीधा फायदा मिला। मोहल्ला क्लीनिक स्वास्थ्य के क्षेत्र में मील के पत्थर साबित हो रहे हैं। खुद अरविंद केजरीवाल ने भी स्वास्थ्य विभाग में सरकार की ओर से उठाए गए कदम की जमकर तारीफ की। केजरीवाल ने बताया कि अब तक 164 मोहल्ला क्लिनिक बनकर तैयार हो चुके हैं और 786 मोहल्ला क्लिनिक बन रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत सरकार के कुल बजट में स्वास्थ्य पर ढाई फीसदी खर्च होता है, लेकिन दिल्ली में हम 12 फीसदी खर्च करते हैं। उन्होंने कहा कि हम प्राइवेट अस्पतालों के खिलाफ नहीं है, लेकिन हम ये चाहते हैं कि सरकारी अस्पतालों की क्षमता इतनी बढ़ा दी जाएं कि लोगों को इलाज के लिए निजी अस्पताल में नहीं जाना पड़े।

शिक्षा का क्षेत्र में उठाए गए कदम

शिक्षा का क्षेत्र में उठाए गए कदम

दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने स्वास्थ्य के साथ-साथ शिक्षा पर भी अहम कदम उठाया। दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने तीन साल पूरा होने के मौके पर कहा कि जनता टैक्स देती है तो उन्हें कुछ न कुछ मिलना चाहिए, हमारी सरकार की कोशिश ये है कि अगर कोई बच्चा दिल्ली में पैदा हुआ है तो उसके शिक्षा-स्वास्थ्य का सारा खर्च दिल्ली सरकार का होगा। उन्होंने बताया कि AAP सरकार ने बजट का 25 फीसदी शिक्षा पर खर्च किया। दिल्ली के सरकारी स्कूलों में शिक्षा का स्तर सुधारने लिए दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने 'चुनौती 2018' के नाम से नई योजना शुरू की है। इस योजना के तहत 6वीं कक्षा से लेकर दसवीं तक के छात्रों को खास योजना के तहत पढ़ाई कराई जाएगी।

इसे भी पढ़ें:- 3 Years of AAP: 2020 से पहले केजरीवाल सरकार का POPULARITY TEST, क्या है मामला...

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
three Years Of AAP Governance arvind kejriwal mohalla clinic health education water.

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.