सुप्रीम कोर्ट ने कहा- Padmavati में हम नहीं करेंगे हस्तक्षेप, रिलीज पर रोक से किया इनकार

Subscribe to Oneindia Hindi
Padmavati's release: Supreme Court dismisses petition seeking stay on movie | वनइंडिया हिंदी

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने संजय लीला भंसाली के निर्देशन वाली पद्मावती फिल्म की रिलीज पर रोक लगाने वाली याचिका को खारिज कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हम इस मामले में हस्तक्षेप नहीं कर सकते।  याचिका को खारिज करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि सेंसर बोर्ड ने अभी तक पद्मावती को सर्टिफिकेट जारी नहीं किया है, यह एक स्वतंत्र निकाय है और इसलिए सुप्रीम कोर्ट को उनके अधिकार क्षेत्र में हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए। बता दें कि यह फिल्म 1 दिसंबर को रिलीज होने वाली है। झुंझनू, जयपुर, जोधपुर समेत कई इलाकों में लोग प्रदर्शन कर रहे हैं. मेवाड़, जयपुर समेत राजस्थान के पांच से ज्यादा पूर्व राजघरान फिल्म का विरोध कर रहे हैं। 

सुप्रीम कोर्ट ने कहा- Padmavati में हम नहीं करेंगे हस्तक्षेप, रिलीज पर रोक से किया इनकार

गौरतलब है कि संजय लीला भंसाली अपनी आगामी फिल्‍म पद्मावती की शूटिंग राजस्थान स्थित नाहरगढ़ फोर्ट में कर रहे थे। इसी साल जून में उनके साथ बदसलूकी की गई। करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने भंसाली के साथ धक्‍का-मुक्‍की की और शूटिंग के लिए रखे उपकरणों और स्‍पीकर वगैरह तोड़ दिया था। सेना के एक कार्यकर्ता ने भंसाली को थप्‍पड़ भी मार दिया। सेना के कार्यकर्ताओं का आरोप है कि भंसाली की फिल्‍म में इतिहास से जुड़े तथ्‍यों और रानी पद्मावती की छवि तोड़-मरोड़ कर पेश किया जा रहा है। सेना का कहना है कि उन्हें अलाउद्दीन खिलजी और रानी पद्मावती के बीच कथित रूप से फिल्माए जा रहे लव सीन पर आपत्ति है।

वहीं बीते दिनों निर्माता संजय लीला भंसाली ने वीडियो रिलीज कर पद्मावती पर सफाई दी है। उन्होंने कहा कि फिल्म में पद्मावती और अलाउद्दीन के बीच कोई रोमांटिक सीन नहीं है। पद्मावती एक दिसंबर को सिनेमाघरों में रिलीज हो रही है। इसमें दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर मुख्य भूमिकाओं में हैं। बताते चलें कि फिल्म रानी पद्मावती के किरदर पर बनी है, इतिहासकार पद्मावती को सिर्फ एक काल्पनिक किरदार मानते हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Supreme Court dismisses petition filed against release of the film Padmavati
Please Wait while comments are loading...