• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

सुप्रीम कोर्ट ने पुलिस और मीडिया को चेताया, क्रिमिनल मामलों के सबूतों ना बनें टीवी बहस का हिस्सा

Google Oneindia News

नई दिल्ली, 20 अप्रैल: सुप्रीम कोर्ट ने गंभीर आपराधिक मामलों के सबूतों को टीवी चैनलों को लीक कर दिए जाने और इस पर बहस को लेकर नाराजगी जताई है। सुप्रीम कोर्ट ने मीडिया और पुलिस को चेताते हुए इस पर सावधानी बरतने को कहा है। सुप्रीम कोर्ट ने जांच अधिकारियों और मीडिया दोनों को चेतावनी दी कि इस तरह का आचरण कर्तव्य की उपेक्षा और आपराधिक प्रशासन में हस्तक्षेप के समान है।

 police

अदालत की ये टिप्पणी मंगलवार को एक फैसले के दौरान आई हैं। ये मामला 1999 में बेंगलुरू में डकैती के आरोपों का है। सुप्रीम कोर्ट ने डकैती के आरोपी चारों लोगों को बरी कर दिया गया। अदालत ने पाया कि अभियोजन पक्ष की ओर से पेश किए गए सबूतों में कई चीजें मिस हैं। इस मामले में ट्रायल कोर्ट ने आरोपियों को मौत की सजा सुनाई थी, जिसे कर्नाटक उच्च न्यायालय ने उम्रकैद में बदल दिया था।

फैसला देते हुए अदालत ने कहा कि मामले में एक बहुत ही परेशान करने वाले पहलू ये है कि पुलिस ने उस डीवीडी को ही एक निजी न्यूज चैनल को लीक कर दिया, जिसमें आरोपी के बयान का बयान रिकॉर्ड किया गया था। जस्टिस यूयू ललित और पीएस नरसिम्हा की पीठ ने कहा, बयानों की डीवीडी का एक निजी टेलीविजन चैनल के हाथों में जाना ताकि इस पर कार्यक्रम किया जा सके, कर्तव्य की उपेक्षा और न्याय प्रशासन में सीधे हस्तक्षेप के अलावा और कुछ नहीं है।

पीठ ने कहा, किसी टीवी चैनल पर इस तरह की कोई भी बहस जो उन मामलों को छूती है जो अदालतों के क्षेत्र में हैं, आपराधिक न्याय के प्रशासन में सीधे हस्तक्षेप के समान होंगे। अदालत ने आगे कहा कि सार्वजनिक मंच इस तरह की बहस या सबूत के लिए जगह नहीं है।

श्रीलंका: प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने की फायरिंग, 1 की मौत, 10 से ज्यादा जख्मीश्रीलंका: प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने की फायरिंग, 1 की मौत, 10 से ज्यादा जख्मी

Comments
English summary
Supreme Court cautions media and police against leaking evidence of crimes on TV channels
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X