पीएम मोदी की टीम में शामिल हुई ये तेजतर्रार लेडी IAS, जानिए इनसे जुड़े FACTS

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

पानीपत। सीएम मनोहर लाल खट्टर की अतिरिक्‍त प्रधान सचिव रहीं हरियाणा कैडर की सीनियर आईएएस सुमिता मिश्रा अब पीएम नरेंद्र मोदी की टीम में शामिल हो गई हैं। सुमिता मिश्रा को नीति आयोग के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आर्थिक सलाहकार परिषद में संयुक्त सचिव बनाया गया है। प्रदेश सरकार ने भी मंगलवार को उनको केंद्र में भेजने पर मुहर लगा दी है। कार्मिक मंत्रालय के आदेश के अनुसार हरियाणा कैडर की 1990 बैच की आईएएस अधिकारी सुमिता को पांच साल के लिये इस पद पर नियुक्त किया गया है। आपको बता दें कि प्रधानमंत्री आर्थिक सलाहकार परिषद का गठन सितंबर में किया गया था। सुमिता मिश्रा के बारे में विस्‍तार से जानिए

लखनऊ से हासिल की शिक्षा

लखनऊ से हासिल की शिक्षा

सुमिता मिश्रा का जन्‍म 30 जनवरी 1966 को लखनऊ में हुआ। उनकी मां का नाम पीके मिश्रा और पिता का नाम एनसी मिश्रा है। एनसी मिश्रा पेशे से डॉक्‍टर थे। सुमिता की शुरूआती शिक्षा लखनऊ के ही लोरेटो कॉन्वेंट स्कूल से प्राथमिक शिक्षा हासिल की। बीए और एमए की पढ़ाई लखनऊ यूनिवर्सिटी से पूरी की। 1990 में उनका भारती प्रशासनिक सेवा (आईएएस) में चयन हुआ था। वे बीते 28 सालों से हरियाणा सरकार में महत्वपूर्ण पद और जिम्मेदारियां संभाल रही थीं। अब वे केंद्र में अपनी भागीदारी देंगी।

चार किताबें प्रकाशित हो चुकी हैं

चार किताबें प्रकाशित हो चुकी हैं

सुमिता मिश्रा की पहली साहित्यक कृति ‘ए लाइफ ऑफ लाईट' नामक शीर्षक से कविताओं का संग्रह है, जिसका वर्ष 2012 में प्रकाशन व विमोचन किया गया। इसके बाद उनकी दूसरी कृति वक्त के उजाले में प्रकाशित हुई। इसके बाद जरा सी धूप नामक शीर्षक से उनकी तीसरी किताब प्रकाशित हुई। उनकी चौथी किताब "पेट्रिकर' अंग्रेजी में है। जिसमें 51 कविताओं को समेटा है। वह जिंदगी को जिस अंदाज में महसूस करती हैं उन्हें अपनी कविताओं से शेयर किया है।

और कौन-कौन हुए नियुक्‍त

और कौन-कौन हुए नियुक्‍त

सुमिता मिश्रा के अलावा पांच आईएएस अधिकारियों समेत 10 अधिकारियों को विभिन्न केंद्रीय विभागों में संयुक्त सचिव बनाया गया है। नागालैंड कैडर के 1993 बैच के आईएएस अधिकारी अमरदीप सिंह भाटिया को कारपोरेट कार्य मंत्रालय के अधीन आने वाले गंभीर धोखाधड़ी जांच कार्यालय में निदेशक बनाया गया है। वह फिलहाल मंत्रालय में संयुक्त सचिव हैं। आईएएस अधिकारी मुखमीत सिंह भाटिया आर्थिक मामलों के विभाग के अंतर्गत आने वाले 15वें आयोग में संयुक्त सचिव होंगे। उनका कार्यकाल पांच साल के लिये होगा। भारतीय आयुध निर्माणी सेवा के 1987 बैच के अधिकारी अमित मेहता उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय में संयुक्त सचिव होंगे। आईएएस अधिकारी आशीष उपाध्याय को कोयला मंत्रालय में संयुक्त सचिव बनाया गया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Senior bureaucrat Sumita Misra appointed as joint secretary in the Prime minister Narendra Modi’s economic advisory council as part of a mid-level bureaucratic reshuffle.
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.