• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

रोहित शेखर की मौत के सबक, कम उम्र में भी हार्ट अटैक का खतरा, ऐसे बचें

|

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी के पुत्र रोहित शेखर का निधन हो गया। हार्ट अटैक की वजह से रोहित की कम उम्र में मौत हो गई। रोहित शेखर उस वक्त चर्चा में आएं थे जब उन्होंने एनडी तिवारी को अपने पिता साबित करने के लिए 6 साल तक लंबी कानूनी लड़ाई लड़कर जीत हासिल की। कानूनी लड़ाई के बाद तीन साल पहले ही एनडी तिवारी ने रोहित शेखर को अपना पुत्र स्वीकार किया था। रोहित कम उम्र में ही हार्ट अटैक के शिकार बने। ट्रिनिटी हॉस्पिटल की स्टडी (2013) के मुताबिक भारत में हर रोज 30 साल तक के 900 भारतीयों की मौत हार्ट अटैक से होती है। आज जिस तरह के माहौल में हम रहते हैं उसमें ये कहना गलत होगा कि सिर्फ बुजुर्गों को ही हार्ट अटैक आ सकता है। 20 से 30 की उम्र तक के लोग अपने दिल की सेहत को लेकर लगातार संघर्ष कर रहे हैं। आइए जानें क्यों कम उम्र में ही लोग दिल की बीमारी के शिकार हो रहे हैं और इसके प हचान के लक्षण क्या हैं और कैसे इससे बच सकते हैं।

पढ़ें-क्या बॉलीवुड छोड़ने की तैयारी में हैं अनुष्का शर्मा, वजह कोहली हैं या फिर प्रेग्नेंसी?

 क्यों युवा हो रहे हैं हार्ट अटैक के शिकार

क्यों युवा हो रहे हैं हार्ट अटैक के शिकार

दिल की बीमारी के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। इसकी सबसे बड़ी वजह है हमारा लाइफस्टाइल, काम का तनाव, खान-पान की गलत आदतें। आज के युवा पीढ़ी को हृदय रोग बुरी तरह से जकड़ता जा रहा है। अगर इस बीमारी की बात करें हार्ट अटैक में ह्रदय शरीर को पर्याप्त मात्रा में रक्त की आपूर्ति नहीं कर पाता है। खून की कमी के चलते शरीर के अंग काम नहीं करते हैं और ह्रदय की मांसपेशियों के कमजोर होने की वजह से रक्त को पंप करनी की प्रक्रिया धीमी पड़ जाती है। इसी की वजह से अटैक आते हैं।

 क्या है लक्षण कैसे रखें दिल का ख्याल

क्या है लक्षण कैसे रखें दिल का ख्याल

दिल की बीमारी एक असमान्य लक्षण हैं। इस बीमारी का आभास होते ही आपको जल्द से जल्द उसका इलाज कराना चाहिए। हार्ट अटैक के लक्षण की बात करें तो दौरा पड़ने के दौरान सांसों की कमी होना, थकान और कमजोरी महसूस करना, अचानक वजन बढ़ जाना। ऐसी स्थिति में फौरन डॉक्टर से संपर्क करना जरूरी है। अक्सर देखा गया है कि धूम्रपान की वजह से दिल की बीमारी तेजी से बढ़ती है। डॉक्टर्स के मुताबिक धूम्रपान और तंबाकू डिसलिपिडेमिया या ब्लड लिपिड का उच्च स्तर और हाई ब्ल्ड शुगर युवाओं में हार्ट अटैक के जोखिम को बढ़ाता है।

 कैसे रखें अपना ख्याल

कैसे रखें अपना ख्याल

  • अपने दिल का ख्याल रखने के लिए सबसे पहले स्मॉकिंग छोड़ देनी चाहिए।
  • रोजाना एक्सरसाइज करें और वजन को कम करें। दिल को दुरुस्त रखने के लिए 45 मिनट तक टहलना भी काफी है।
  • खानपान पर ध्यान रखना होगा। फल,सब्जियों का सेवन बढ़ा दें। मीठा और चिकनाई वाली चीजों को कम करें।
  • अपने आप को तनाव से दूर रखें।
  • नियमित तौर पर अपनी जांच कराते रहें.

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Rohit Shekhar Tiwari, son of late former Uttar Pradesh and Uttarakhand CM ND Tiwari, died of heart attack on Tuesday.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X