• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

राकेश टिकैत का दावा- जल्द ही 40 लाख ट्रैक्टरों के साथ संसद का घेराव करेंगे किसान

|

सीकर: राजधानी दिल्ली से लगती सीमाओं पर किसानों का आंदोलन पिछले 90 दिनों से जारी है। किसानों ने साफ कर दिया है कि जब तक मोदी सरकार नए कृषि कानूनों को वापस नहीं लेती, तब तक वो डटे रहेंगे। इस बीच मंगलवार को किसान नेता राकेश टिकैत राजस्थान के सीकर में संयुक्त किसान मोर्चा की महापंचायत में हिस्सा लेने पहुंचे। जिसमें टिकैत ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला। साथ ही किसानों को फिर से ट्रैक्टर मार्च के लिए तैयार रहने को कहा।

farmers protest

महापंचायत में राकेश टिकैत ने कहा कि अगर केंद्र सरकार तीनों नए कृषि कानूनों को निरस्त नहीं करती है, तो प्रदर्शनकारी किसान संसद का घेराव करेंगे। किसान इसके लिए पूरी तरह से तैयार रहें, उन्हें किसी भी वक्त इससे संबंधित निर्देश दिए जा सकते हैं। उन्होंने कहा कि इस बार संसद का घेराव चार लाख की जगह 40 लाख ट्रैक्टरों से होगा। साथ ही किसान इंडिया गेट के आसपास मौजूद पार्कों की जुताई करेंगे। बाद में वहीं पर वो फसलें पैदा करेंगे। हालांकि अभी तक संयुक्त मोर्चा के नेताओं ने संसद घेराव की तारीख नहीं तय की है।

किसान आंदोलन पर छलका धर्मेंद्र का दर्द, कहा- सेंटर में किस-किस से क्या-क्या कहा, लेकिन...

टिकैत ने आगे कहा कि 26 जनवरी को देश के किसानों को बदनाम करने की साजिश की गई थी। देश का हर किसान तिरंगे से प्यार करता है, लेकिन इस देश के नेताओं से नहीं। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर सरकार जल्द ही नए कानूनों को वापस नहीं लेती तो वो बड़ी कंपनियों के गोदामों को भी ध्वस्त कर देंगे। इसके लिए भी जल्द संयुक्त मोर्चा तारीख तय कर लेगा। सीकर के अलावा मंगलवार को टिकैत ने चूरू जिले के सरदारशहर में भी किसान सभा को संबोधित किया। जिसमें स्वराज आंदोलन के योगेंद्र यादव समेत कई नेता मौजूद रहे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Rakesh Tikait said farmers Parliament March soon with 40 lakh Tractor
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X