• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

नीतीश ने कहा- जिस पार्टी में जाना है चले जाओ, पवन वर्मा ने दिया ये जवाब

|
    CAA पर JDU में दरार: Nitish Kumar ने कहा- किसी भी पार्टी में जा सकते हैं Pavan Verma |oneindia hindi

    नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर जनता दल (यूनाइटेड) के भीतर घमासान मचा हुआ है। पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव पवन वर्मा की चिट्ठी पर जदयू प्रमुख और बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने दो टूक कहा था कि कोई समस्या है तो उनको अपनी बात पार्टी की मीटिंग में रखनी चाहिए, ऐसी सार्वजनिक बयानबाजी हैरान करने वाली है। नीतीश कुमार ने कहा था कि जो पार्टी उनको (पवन वर्मा) पसंद हो, वे उसमें जा सकते हैं। नीतीश कुमार के बयान के बाद अब एक बार फिर पवन वर्मा की प्रतिक्रिया आई है।

    pawan verma welcomes nitish kumars statement, says- was never my intention to hurt him

    पवन वर्मा ने कहा, 'मैं नीतीश कुमार के इस बयान का स्वागत करता हूं कि पार्टी के भीतर चर्चा के लिए जगह है, जैसा कि मैंने उनसे पूछा था। मेरा इरादा कभी भी उन्हें तकलीफ पहुंचाने का नहीं था। मैं चाहता हूं कि पार्टी में वैचारिक स्पष्टता हो।' पवन वर्मा ने कहा कि चिट्ठी का जवाब मिलने के बाद वे भविष्य को लेकर कोई फैसला करेंगे।

    ये भी पढ़ें: पवन वर्मा के बागी तेवरों पर बोले नीतीश कुमार, जो पार्टी पसंद हो उसमें चले जाएं, मेरी शुभकामनाएं हैंये भी पढ़ें: पवन वर्मा के बागी तेवरों पर बोले नीतीश कुमार, जो पार्टी पसंद हो उसमें चले जाएं, मेरी शुभकामनाएं हैं

    दरअसल, पवन वर्मा नागरिकता संशोधन कानून का जेडीयू द्वारा समर्थन किए जाने के बाद से ही नाराज हैं। इसके पहले भी उन्होंने नीतीश कुमार को चिट्ठी लिखी थी और अपने फैसले पर दोबारा विचार करने का आग्रह किया था। वहीं, दिल्ली चुनाव में जेडीयू और भाजपा के गठबंधन के बाद एक बार फिर उन्होंने पत्र लिखकर इस गठबंधन पर सवाल उठाए। बता दें कि बीजेपी ने दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए जदयू को दो सीटें दी हैं।

    पवन वर्मा ने नीतीश कुमार को लिखी चिट्ठी में उनसे सवाल किया था कि बीजेपी के खिलाफ सीएए और एनआरसी को लेकर देशभर में गुस्से का माहौल है। ऐसे में जदयू का भाजपा के साथ दिल्ली चुनाव लड़ना समझ से परे है। दिल्ली में जदयू को भाजपा के साथ जाने पर फिर से सोचना चाहिए। उन्होंने कहा था कि जदयू की विचारधारा सेक्युलर है, वो ऐसे कानून के हक में नहीं जा सकती है।

    English summary
    pawan verma welcomes nitish kumar's statement, says- was never my intention to hurt him
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X