• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

श्रमिक स्पेशल ट्रेन से यूपी आ रही महिला ने रास्ते में दिया बच्चे को जन्म, नाम रखा लॉकडाउन यादव

|

नई दिल्ली। लॉकडाउन में फंसे प्रवासी श्रमिकों की घर वापसी के लिए सरकार की ओर से स्पेशल ट्रेनें चलाई जा रही हैं। इस दौरान लोगों के पलायन की कई मार्मिक कहानियां देखने और सुनने को मिल रही हैं। ऐसी ही घटना सुखद घटना मध्य प्रदेश के बुरहानपुर में देखने को मिली। महाराष्ट्र के मुंबई से उप्र जा रही श्रमिक विशेष ट्रेन में सफर कर रही एक महिला को अचानक प्रसव पीड़ा होने लगी जिसके बाद ट्रेन को मध्य प्रदेश के बुरहानपुर पर रोका गया। प्रशासन की मदद से महिला ने एक बच्चे को जन्म दिया । उसका नाम रखा लॉकडाउन यादव।

बुरहानपुर में जन्मा उत्तर प्रदेश का 'लॉकडाउन यादव'

बुरहानपुर में जन्मा उत्तर प्रदेश का 'लॉकडाउन यादव'

दरअसल महाराष्ट्र के मुंबई से उप्र जा रही श्रमिक विशेष ट्रेन में शनिवार सुबह करीब साढ़े चार बजे उत्तरप्रदेश के अंबेडकर नगर निवासी रीता पत्नी उदयभान यादव को प्रसव पीड़ा हुई। उदयभान ने तत्काल रेलवे के हेल्पलाइन नंबर पर कॉल कर मदद मांगी। रेलवे ने स्टॉपेज नहीं होने के बावजूद ट्रेन को मध्य प्रदेश के बुरहानपुर में रोक दिया। सूचना के बाद बुरहानपुर में डॉक्टरों की टीम भी पहुंच गई। डॉक्टरों ने महिला की सुरक्षित डिलीवरी कराई। मां-बच्चा दोनों स्वस्थ्य हैं।

दंपति को कार से घर भेजा गया

दंपति को कार से घर भेजा गया

बुरहानपुर के एसडीएम केआर बड़ोले ने बताया कि कलेक्टर प्रवीण सिंह के निर्देश पर मां-बच्चे के लिए नए कपड़े मंगवाए। पति-स्वजनों को सैनिटाइजर, मास्क, भोजन पैकेट और रास्ते में खर्च के लिए पांच हजार रपये दिए गए। इसके बाद कलेक्टर सिंह ने प्रशासन की ओर से पूरे परिवार को कार से उनके घर उत्तर प्रदेश के आंबेडकर नगर रवाना किया। जैसे ही इस घटना के बारे में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को खबर लगी उन्होंने मामले पर संज्ञान लिया।

मामा शिवराज ने दी बधाई

मामा शिवराज ने दी बधाई

शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर लिखा कि, बहन मुंबई से अपने राज्य उत्तर प्रदेश श्रमिक ट्रेन से जा रही थी। बुरहानपुर में प्रसव पीड़ा हुई और मेरे भांजे का जन्म हुआ। इन परिस्थतियों में जन्में बेटे का नाम बहन ने 'लॉकडाउन यादव' रखने का फैसला किया। अब यह बच्चा तो मध्यप्रदेश का भी है। नन्हे लॉकडाउन को आशीर्वाद, शुभकामनाएं! उन्होंने लिखा कि, नन्हे 'लॉकडाउन यादव' को बहुत प्यार! बुरहानपुर कलेक्टर, रेलवे कर्मचारियों और स्थानीय कर्मचारियों ने हमारी बहन और नवजात भांजे की अच्छी तरह देखभाल की और उनके गृह नगर, उत्तर प्रदेश जाने की समुचित व्यवस्था की; इसके लिए धन्यवाद देता हूं। बहन और परिवार को नये मेहमान के लिए बधाई!

25 से नहीं 28 मई से पश्चिम बंगाल में शुरू होंगी घरेलू उड़ानें, ममता सरकार ने बताई वजह

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
migrant couple on Shramik train want to name newborn ''Lockdown Yadav in Burhanpur in Madhya Pradesh
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X