• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

सरकार ने कहा-NSA अजित डोवाल के नाम पर झूठी खबरें फैला रहा चीनी मीडिया, इनसे बचें

|

नई दिल्‍ली। विदेश मंत्रालय ने उन खबरों पर मंगलवार को एक बयान जारी किया है जिसमें चीनी मीडिया राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोवाल के हवाले से कुछ टिप्‍पणियों को आगे बढ़ा रही है। विदेश मंत्रालय के मुताबिक एनएसए डोवाल के नाम से जो भी टिप्‍पणियां चीन की मीडिया की तरफ से आ रही हैं वो पूरी तरह से झूठी और आधारहीन है। सरकार ने मीडिया से अनुरोध किया है कि इन रिपोर्ट्स पर जरा भी यकीन न करें।

ajit-doval

यह भी पढ़ें-भारतीय जवानों ने गैर-कानूनी तरीके से पार की LAC

चाइना डेली और ग्‍लोबल टाइम्स में रिपोर्ट्स

विदेश मंत्रालय ने कहा, ' हमने चीन की सरकारी मीडिया जैसे चाइना डेली और ग्‍लोबल टाइम्‍स में उन खबरों को देखा है जिसमें एनएसए डोवाल के हवाले से कुछ टिप्‍पणियों को जगह दी गई है। ये रिपोर्ट्स पूरी तरह से झूठी हैं और तथ्‍यों पर आधारित नहीं हैं। हम मीडिया से अनुरोध करते हैं कि वह ऐसी रिपोर्ट्स से बचे।' सात सितंबर को एक बार फिर से चीन बॉर्डर पर स्थिति तनावपूर्ण हो गई है। पीपुल्‍स लिब्रेशन आर्मी की वेस्‍टर्न कमांड की तरफ से दावा किया गया है कि भारतीय जवानों ने एलएसी पार की और पैंगोंग त्‍सो के दक्षिण में अचानक फायरिंग शुरू कर दी। भारतीय सेना ने कहा है, ' सात सितंबर को चीन के पीपुल्‍स लिब्रेशन आर्मी (पीएलए) जवानों की तरफ से एलएसी के इस तरफ हमारी फॉरवर्ड पोजिशन के करीब आने की कोशिश की गई और जब हमारे जवानों ने रोका तो पीएलए की तरफ से हवाई फायरिंग हुई जिसका मकसद हमारे जवानों को डराना था।' सेना की तरफ से अपने बयान में साफ-साफ कहा गया है कि वेस्‍टर्न थियेटर कमांड की तरफ से जो बयान जारी किया गया है वह चीन की जनता को और अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर भ्रमित करने वाला है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
India says reports in Chinese media attributed comments of NSA Ajit Doval are false.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X