• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Delhi Violence: हिंसा में मारे गए IB अफसर अंकित शर्मा की मां का रो-रोकर बुरा हाल, बोलीं- मेरा बेटा अक्सर कहता था 'पैसे की चिंता मत करो'

|

नई दिल्ली। उत्तर-पूर्वी दिल्ली के इलाके में भड़की हिंसा में 28 लोगों की जान जा चुकी है। हिंसाग्रस्त चांद बाग इलाके में आईबी अफसर अंकित शर्मा का शव बुधवार को बरामद हुआ था। अंकित शर्मा के परिजनों ने आम आदमी पार्टी के एक स्थानीय नेता ताहिर हुसैन को उसकी हत्या के लिए जिम्मेदार ठहराया और आप नेता की गिरफ्तारी की मांग की। वहीं, परिजनों ने आरोप लगाया कि पुलिस ने रात में अंकित शर्मा के लापता होने की शिकायत दर्ज नहीं की थी। अंकित शर्मा की मां का रो-रोकर बुरा हाल है।

पुलिस ने रात में नहींं दर्ज की शिकायत, परिवार का आरोप

पुलिस ने रात में नहींं दर्ज की शिकायत, परिवार का आरोप

अंकित शर्मा का शव चांद बाग इलाके के एक नाले से बरामद किया गया था। चंदन के शरीर पर कई जख्म थे। आरोप है कि चांद बाग पुल के पास भीड़ ने अंकित पर हमला कर दिया और पीट-पीटकर हत्या कर दी। उत्तर-पूर्वी दिल्ली में भड़की हिंसा में 200 से अधिक लोग घायल हैं। अंकित शर्मा की मां का रो-रोकर बुरा हाल है। वह बताती हैं कि पुलिस ने बुधवार सुबह को पहली शिकायत दर्ज की। परिवार के लोगों का आरोप है कि पुलिस ने अंकित के लापता होने के बाद रात में शिकायत दर्ज नहीं की।

ये भी पढ़ें: दिल्ली हिंसा: IB कर्मी के परिजनों ने AAP नेता को ठहराया उनकी हत्या के लिए जिम्मेदार

आप नेता ताहिर हुसैन को ठहराया हत्या के लिए जिम्मेदार

आप नेता ताहिर हुसैन को ठहराया हत्या के लिए जिम्मेदार

मंगलवार को हुई घटना के बारे में उन्होंने बताया, 'अंकित दफ्तर से शाम 4.30 बजे करीब आया था। मुझे बताया गया कि भीड़ अपने साथ तीन लोगों को ले गई थी, स्थानीय लोगों ने बताया कि उनमें एक मेरा बेटा भी था।' अंकित ने 23 साल की उम्र में आईबी ज्वाइन किया था।' मां ने बताया कि दिल्ली पुलिस में अंकित की नौकरी लग गई थी लेकिन उसने इंटेलिजेंस ब्यूरो को चुना, वह बेहद प्रतिभाशाली था। अंकित की मां ने कहा, 'मेरा बेटा निर्दोष था .... दुनिया के मामलों से एकदम अनजान। वह अक्सर हमसे कहता था, 'पैसे की परवाह मत करो', वह अक्सर मुझसे मेडिकल के खर्च की चिंता ना करने को कहता था।'

अंकित शर्मा ने 23 साल की उम्र में ज्वाइन किया था आईबी

अंकित शर्मा ने 23 साल की उम्र में ज्वाइन किया था आईबी

अंकित शर्मा के पिता रविंद्र शर्मा दिल्ली पुलिस में काम करते हैं। उन्होंने आम आदमी पार्टी के नेता ताहिर हुसैन के समर्थकों पर अंकित पर हमला करने और उसकी जान लेने का आरोप लगाया। पिता ने बताया कि अंकित को पिटाई के बाद गोली मारी गई थी। पुलिस ने अंकित के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। वहीं, परिवार के एक अन्य सदस्य ने भी आप नेता को अंकित की हत्या के लिए जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा, 'महिला के साथ छेड़छाड़ की जा रही है, फिर भी ये लोग (दिल्ली पुलिस) हमारी शिकायतों पर एक्शन नहीं ले रहे हैं। अंकित शर्मा ने 2017 में आईबी ज्वाइन किया था। उनके पिता दिल्ली पुलिस में एएसआई हैं और करोल बाग थाने में तैनात हैं। घर में पिता के अलावा उनकी मां, एक भाई और एक बहन है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
IB officer ankit sharma family said, He often told us Dont care about money
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X