समान नागरिक संहिता लागू होने तक हिन्दू पैदा करें 4 बच्चे- स्वामी गोविंददेव गिरीजी महाराज

Subscribe to Oneindia Hindi

उडूपी। कर्नाटक स्थित उडूपी में उत्तराखंड के  हरिद्वार स्थित भारत माता मंदिर के स्वामी गोविंददेव गिरीजी महाराज ने कहा कि दो बच्चों की  नीति केवल हिंदुओं तक ही सीमित नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि यह देखते हुए कि भारत ने उन प्रदेशों को खो दिया है जहां भी हिंदू आबादी कम हो गई है, जिसके परिणामस्वरूप जनसांख्यिकी असंतुलन हुआ। गिरी जी महराज ने यह बात विश्व हिन्दू परिषद के एक कार्यक्रम के दौरान कही। उन्होंने कहा कि "जनसांख्यिकीय असंतुलन" को बराबर करने के लिए समान नागरिक संहिता लागू होने तक हिंदुओं को कम से कम चार बच्चे पैदा करने चाहिए।

समान नागरिक संहिता लागू होने तक हिन्दू पैदा करें 4 बच्चे- स्वामी गोविंददेव गिरीजी महाराज

विश्व हिंदू परिषद द्वारा आयोजित तीन दिवसीय धर्म संसद के दूसरे दिन वह पत्रकारों से बात करते हुए स्वामी ने कहा कि सरकार अधिकतम दो बच्चों पर जोर दे रही है, लेकिन जब तक एक समान नागरिक संहिता लागू नहीं की जाती है, तब तक हिंदुओं में कम से कम चार बच्चे पैदा करने चाहिए।

उन्होंने कहा कि गौ रक्षक शांतिप्रिय लोग हैं, कुछ निहित स्वार्थों द्वारा उन्हें बदनाम किया गया है। कुछ अपराधियों ने गौ रक्षा की आड़ में फायदा उठा रहे हैं। इस धार्मिक कार्यक्रम में पूरे देश में 2,000 से अधिक हिंदू संत, मठों के स्वामी और विहिप नेताओं ने भाग लिया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
'Hindus should beget four children till UCC is implemented'
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.