क्या गुजरात चुनाव के लिए कम की गई GST की दरें?

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। वस्तु एवं सेवा कर (GST) में जनता को राहत दी जा रही है। कल (9 नवबंर) और आज हुई GST काउंसिल की बैठक के बाद खबर है कि अब 177 चीजें सस्ती हो गई हैं। GST काउंसिल की दो दिवसीय बैठक असम स्थित गुवाहाटी में हुई जहां ये फैसले लिए गए। अब सिर्फ 50 चीजें हाई GST स्लैब (28%) में हैं। ताजा फैसले के बाद अधिकतर लग्जरी और सेहत को नुकसान पहुंचाने वाली चीजें ही 28 फीसदी के स्लैब में बची हैं। बता दें कि कुल 227 चीजों पर हाई GST लगता था। हालांकि GST काउंसिल के इन फैसलों से विपक्ष को आपत्ति है। विपक्ष सीधा आरोप लगा रहा है कि केंद्र सरकार ये सब गुजरात चुनाव को ध्यान में रख कर रही है।

6 अक्टूबर को भी हुई थी बैठक

6 अक्टूबर को भी हुई थी बैठक

वहीं बीते महीने 6 अक्टूबर को जीएसटी परिषद की 22वीं बैठक में कई अहम बदलाव किए गए थे। वित्त मंत्री अरुण जेटली की अगुआई में हुई जीएसटी काउंसिल ने 27 कैटेगरी में आने वाली चीजों को सस्ता कियाथा। कार खरीदना और घर का निर्माण भी सस्‍ता कर दिया गया था। वहीं विभिन्‍न जॉब वर्क से वस्तु एवं सेवा कर घटा दिया है।

GST की वजह से आई थी मंदी तो मिली ये सुविधा

GST की वजह से आई थी मंदी तो मिली ये सुविधा

इसके अलावा जीएसटी की वजह से मंद पड़ी कारोबारी गतिविधियों में जान फूंकने के लिए 1.5 करोड़ रुपए सालाना टर्नओवर वाले व्‍यापारियों को मासिक की जगह तिमाही रिटर्न फाइल करने की सुविधा दी गई थी। जीएसटी काउंसिल ने कंपोजिशन योजना अपनाने वाली कंपनियों के लिए भी कारोबार की सीमा 75 लाख रुपये से बढ़ाकर एक करोड़ रुपये कर दिया था।

गुजरात में वोटिंग बाकी, हिमाचल में हो चुका मतदान

गुजरात में वोटिंग बाकी, हिमाचल में हो चुका मतदान

बता दें कि 9 नवंबर को जहां हिमाचल में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान संपन्न हुआ, वहीं गुजरात में दिसंबर 9 और 15 को वोटिंग की जाएगी। दोनों राज्यों के परिणाम 18 दिसंबर को आएंगे।

कांग्रेस के सीएम और वित्त मंत्री का आरोप

कांग्रेस के सीएम और वित्त मंत्री का आरोप

पुडुचेरी के सीएम समेत दो और राज्यों के वित्तमंत्रियों का आरोप है कि सरकार गुजरात चुनाव के मद्देनजर GST में बदलाव कर रही है। कांग्रेस शासित राज्यों के वित्त मंत्रियों ने वित्तमंत्री अरुण जेटली को चिट्ठी लिख कर कहा है कि बड़ा टैक्स लगाने का फैसला गलत था। सरकार अब जो बदलाव कर रही है वो गुजरात चुनाव के चलते कर रही है।

कांग्रेस के सुझावों पर सरकार का रवैया अच्छा नहीं

कांग्रेस के सुझावों पर सरकार का रवैया अच्छा नहीं

अंग्रेजी समाचार चैनल इंडिया टुडे के अनुसार पुडुचेरी के सीएम वी नारायण सामी ने कहा कि केंद्र सरकार की नजर गुजरात चुनाव पर है इसलिए वो ऐसा कर रहे हैं। वहीं पंजाब के वित्त मंत्री ने कहा कि GST पर कांग्रेस के सुझावों के विषय पर सरकार का रवैया अच्छा नहीं था।

चिदंबरम ने कहा

चिदंबरम ने कहा

आज शुक्रवार सुबह ही UPA सरकार में वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने कहा है कि कांग्रेस शासित राज्यों के वित्तमंत्रियों की ओर से लगातार चिट्ठी लिखे जाने के बाद इसके एजेंडे पर बातचीत होगी। इन चिट्ठियों में जीएसटी को लागू करने में किस तरह की दिक्कतें सामने आई हैं, उस पर ध्यान दिया गया था। सरकार इन मुद्दों से मुंह नहीं मोड़ सकती।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
GST Council meeting gujarat assembly election 2017 himachal assembly election 2017
Please Wait while comments are loading...