• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Corona Impact: सरकारी कर्मचारियों की सैलरी पर सकंट, मंत्री ने कहा-बिना मदद नहीं दे पाएंगे वेतन

|

नई दिल्ली। भारत के लगभग सभी राज्य कोरोना संकट झेल रहे हैं। कोरोना वायरस और लॉकडाउन के कारण सरकार का खजाना खाली हो गया है। असम की सरकार ने हाथ खड़े कर दिए हैं। असम के वित्त मंत्री के बयान ने राज्य के कर्मचारियों की चिंता बढ़ा दी है। असम के वित्त मंत्री हिमंत बिस्व के मुताबिक वर्तमान में सरकार कर्मचारियों की सैलरी देने में असमर्थ है। वित्त मंत्री के मुताबिक अगर उन्हें कहीं से सहायता नहीं मिली तो वो सरकारी कर्मचारियों वेतन नहीं दे पाएंगे।

कोरोना वैक्सीन: ऑक्सफोर्ड ही नहीं, ये 6 वैक्सीन भी पहुंच चुकी हैं थर्ड फेज के ट्रायल में

कोरोना की भेट चढ़ा ये एयरलाइंस, 5500 कर्मचारियों को बिना वेतन छुट्टी पर भेजा,स्पाइसजेट भी नहीं देगी पूरी सैलरी

 सरकारी कर्मचारियों की सैलरी पर संकट

सरकारी कर्मचारियों की सैलरी पर संकट

असम में कोरोना वायरस ने सरकार की वित्तीय स्तिति को हिला कर रख दिया है। असम के वित्त मंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने सोमवार को कहा कि सरकार की आर्थिक स्थिति बुरे दौर से गुजर रही है। कर्मचारियों को सैलरी देने तक में उन्होंने असमर्थता दिखाई। हिमंत बिस्व ने कहा कि अगर बाहर से कोई वित्तीय सहायता नहीं मिली तो राज्य सरकार अपने कर्मचारियों को मई महीने का वेतन नहीं दे पाएगी। उन्होंने कहा कि सरकार मई के पहले हफ्ते के बाद अप्रैल के वेतन का भुगतान तो कर देगी, लेकिन इसके बाद सरकार वेतन नहीं दे पाएगी।

आर्थिक मदद की उम्मीद

आर्थिक मदद की उम्मीद

असम ने आर्थिक मदद की उम्मीद जताई है। असम के वित्त मंत्री ने साफ-साफ कह दिया है कि अगर उन्हें कहीं से आर्थिक मदद नहीं मिलती है तो वो मई की सैलरी कर्मचारियों को नहीं देो पाएंगे। ऐसे में असम के सरकारी कर्मचारियों की चिंता भी बढ़ गई है। वित्त मंत्री हिमंत बिस्व ने कहा कि सरकार के लिए मई का महीना बहुत मुश्किल भरा है। मुझे नहीं पता कि राजकोष कैसे चलेगा। सरकार किसी तरह अप्रैल की सैलरी मई में देंगे, लेकिन मई की सैलरी देना हमारे लिए मुश्किल है। उन्होंने कहा कि अगर जून में अगर कोई मदद नहीं मिलती है तो हम बकाए का भुगतान करने की स्थिति में नहीं हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना संकट के कारण सरकार की हालत बहुत खस्ता है।

 केंद्र सरकार से मदद की उम्मीद

केंद्र सरकार से मदद की उम्मीद

असम सरकार ने स्थिति को लेकर केंद्र सरकार से बात की है। प्रदेश की आर्थिक स्थिति के बारे में केंद्र सरकार को जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने असम की वित्तीय स्थिति के बारे में जानकारी दी। केंद्र सरकार ने उन्हें हर संभव मदद का भरोसा दिलाया है।

12 अगस्‍त को रूस से आ रही है पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन, जानिए इसके बारे में सबकुछ

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Assam Finance Minister said that Govtwill not be able to pay salaries of employees for may if no financial support .
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X