• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Good News: केरल में एक दिन में रिकॉर्ड मरीज स्वस्थ होकर घर पहुंचे, 6 जिले Covid19 मुक्त हुए

|

नई दिल्ली। कोरोनोवायरस महामारी से लड़ने के प्रयासों में केरल के लिए सोमवार एक अच्छा दिन रहा है, जहां लगातार दूसरे दिन राज्य में संक्रमण के कोई नए मामले नहीं आए और बड़ी बात यह रही है कि सोमवार को बीमारी से कुल 61 मरीज स्वस्थ होने की पुष्टि हुई, जो एक दिन के लिहाज से सर्वाधिक है। इससे केरल में सक्रिय मामलों की संख्या 95 से गिरकर 34 तक पहुंच गई है।

Kerala

मुख्यमंत्री पिनरई विजयन ने अपनी दैनिक प्रेस वार्ता में साझा की गई जानकारी के अनुसार केरल में स्वस्थ होने ल वालों में 19 मरीज कन्नूर जिले के हैं जबकि 12 मरीज कोट्टायम, 11 इडुक्की, 9 कोल्लम, 4 कोझीकोड से हैं। जबकि मलप्पुरम, कासरगोड और तिरुवनंतपुरम के दो-दो मरीज स्वस्थ घोषित किए हैं।

Lockdown: भारत की GDP विकास दर 1-2 फीसदी के बीच रहने की है संभावना: के सुब्रमणियन

Kerala

उन्होंने बताया कि केरल के तीन और जिले कोझिकोड, मलप्पुरम और तिरुवनंतपुरम Covid-19 मुक्त जिलों की सूची में शामिल हो गए हैं। हालांकि कन्नूर में अभी भी सबसे अधिक 18 सक्रिय मामले शेष हैं, जिसके बाद कोट्टायम में नंबर आता हैं, जहां 6 सक्रिय मामले हैं और कोल्लम और कासरगोड में तीन-तीन सक्रिय मामले हैं।

ovid Hotspots: ये फैक्टर भी कोरोना वायरस संक्रमण में तेजी के लिए हो सकते हैं बड़े जिम्मेदार!

Kerala

निः संदेह केरल के ताजा आंकड़े राज्य की उल्लेखनीय उपलब्धि को रेखांकित करते हैं और पुष्टि करते हैं कि राज्य ने न केवल सफलतापूर्वक संक्रमण वक्र को समतल किया है, बल्कि यदि आगे भी वर्तमान परिस्थितियों को जारी रखता है, तो केरल Covid19 मुक्त हो सकता है।

क्या भारत में नोवल कोरोनोवायरस स्ट्रेन ने रूप बदल लिया है? उत्परिवर्तन पर शोध करेगी ICMR

Kerala

गौरतलब है पिछले कुछ दिनों से केरल का स्वास्थ्य विभाग स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं, पुलिस अधिकारियों, प्रवासी श्रमिकों, किराना विक्रेताओं और अन्य उच्च जोखिम वाले समूहों के बीच प्रहरी निगरानी के तहत नमूनों का परीक्षण कर रहा है।

सबसे अमीर हिंदू तीर्थस्थान तिरुपति बालाजी मंदिर ने 1300 श्रमिकों को नौकरी से हटाया

उच्च जोखिम वाले समूहों के बीच प्रहरी निगरानी तहत नमूनों का परीक्षण

उच्च जोखिम वाले समूहों के बीच प्रहरी निगरानी तहत नमूनों का परीक्षण

यह जांच और परीक्षण उन लोगों के लिए है, जिन्हें उनके विदेश यात्रा इतिहास है और Covid19 संक्रमित के संपर्क में हैं। माना जा रहा है कि दोनों यानी नियमित नमूना परीक्षण के साथ-साथ प्रहरी निगरानी परीक्षण ने समुदाय के भीतर वायरस के किसी भी प्रकार के मौन संचरण का कोई सबूत नहीं दिखाया है। यह सरकार के लिए भी बहुत बड़ी राहत है।

सरकार ने 21,000 से अधिक लोगों को घरेलू आइसोलेशन जारी रखा है

सरकार ने 21,000 से अधिक लोगों को घरेलू आइसोलेशन जारी रखा है

हालांकि, सतर्कता बनाए रखने के एक हिस्से के रूप में केरल स्वास्थ्य विभाग ने 21,000 से अधिक लोगों को घरेलू आइसोलेशन के तहत जारी रखा है। ये अनिवार्य रूप से उन लोगों के प्राथमिक और माध्यमिक संपर्क हैं जिन्होंने वायरस के लिए अब तक पॉजिटिव परीक्षण किया है।

7 मई से उड़ान भरने वाले हजारों प्रवासियों का स्वागत करेगा करेल

7 मई से उड़ान भरने वाले हजारों प्रवासियों का स्वागत करेगा करेल

केरल चुनौती के अगले चरण के लिए भी सतर्क और सावधान है और 7 मई से केरल के लिए उड़ान भरने वाले हजारों प्रवासियों का स्वागत करेगी। केंद्र ने दुनिया भर में फंसे भारतीयों और उन लोगों के चरण-दर-चरण बचाव पर आधिकारिक अधिसूचना जारी की है, जो घर आने की इच्छा रखते हैं।

प्रवासियों को आइसोलेशन में रखने के लिए केरल मेंसंस्थागत सुविधाएं तैयार

प्रवासियों को आइसोलेशन में रखने के लिए केरल मेंसंस्थागत सुविधाएं तैयार

यदि उनके आगमन पर लक्षण पाए जाते हैं, तो राज्य ने बड़े पैमाने पर उन्हें आइसोलेशन में रखने के लिए संस्थागत सुविधाओं को तैयार किया है। हालांकि संक्रमण के किसी भी लक्षण नहीं दिखाने वाले तुरंत घर लौट सकते हैं, लेकिन अगले 14 दिनों के लिए उन्हें भी घरेलू आइसोलेशन में रहना होगा।

दूसरे राज्यों में फंसे लोग केरल में पहुंचने शुरू हो गए हैं

दूसरे राज्यों में फंसे लोग केरल में पहुंचने शुरू हो गए हैं

दूसरे राज्यों में फंसे लोग केरल में पहुंचने शुरू हो गए हैं। डिजिटल पास उन लोगों को जारी किए गए हैं, जिन्होंने सरकारी वेबसाइट पर चेक-पोस्ट के विवरण के साथ प्रदेश में प्रवेश के समय के लिए पंजीकरण पूरा कर लिया है। अन्य राज्यों से आने वाले भी लोगों को राज्य में 14 दिनों के लिए आइसोलेशन में रहना होगा।

केरल CM ने कहा प्रधानमंत्री से नॉन-स्टॉप ट्रेनें चलाने की याचिका दायर की है

केरल CM ने कहा प्रधानमंत्री से नॉन-स्टॉप ट्रेनें चलाने की याचिका दायर की है

मुख्यमंत्री ने कहा कि महाराष्ट्र, दिल्ली और उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों में रह रहे जो मलयाली घर वापस आने की इच्छा रखते हैं, उनके लिए उन्होंने प्रधानमंत्री से नॉन-स्टॉप ट्रेनें चलाने की याचिका दायर की है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
According to the information shared by Chief Minister Pinarayi Vijayan in his daily press briefing, 19 patients from Kerala are from Kannur district while 12 patients are from Kottayam, 11 Idukki, 9 Kollam, 4 Kozhikode. While two patients from Malappuram, Kasaragod and Thiruvananthapuram have been declared healthy. He said that three more districts of Kerala, Kozhikode, Malappuram and Thiruvananthapuram have joined the list of Covid-19 free districts.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X