• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

सरकारी नीतियों पर पूर्व RBI गवर्नर सी रंगराजन बोले- प्रवासी मजदूरों के लिए बन सकती थी बेहतर योजना

|

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के चलते पिछले दो महीने से देशभर में लॉकडाउन लागू है। देशबंदी का सबरे बुरा प्रभाव दिहड़ी मजदूरों पर पड़ा है जो रोजगार की तलाश में अपने गृह राज्य से दूर किसी अन्य स्थान पर जाते हैं। लॉकडाउन के बाद से ही प्रवासी मजदूरों का पलायन जारी है जो कोरोना वायरस ट्रैवलर का भी काम कर रहे हैं। इस मुद्दे पर विपक्ष ने कई बार सरकार की नीतियों पर सवाल उठाया है, अब इस लिस्ट में भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के पूर्व गवर्नर सी रंगराजन का भी नाम जुड़ गया है। सोमवार को उन्होंने अपने बयान में कहा, लॉकडाउन के कारण प्रवासी संकट से निपटने के लिए कुछ और उपाए किए जा सकते थे।

Former RBI Governor C Rangarajan said on government policies better scheme could be made for migrant laborers

अर्थशास्त्री और एक अनुभवी केंद्रीय बैंकर के रूप में जाने जानें वाले भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के पूर्व गवर्नर सी रंगराजन ने प्रवासी मजदूरों के पलायन पर केंद्र सरकार को घेरा है। अक्सर सरकार की राजकोषीय नीति और मौद्रिक नीति पर सवाल उवाल उठाने वाले रंगराजन ने लॉकडाउन में प्रवासी श्रमिकों की दुर्दशा पर दुख जताया है। अपने एक बयान में उन्होंने कहा, प्रवासी श्रमिकों की दुर्दशा बहुत गंभीर है, सड़कों पर चलने वाले प्रवासी श्रमिकों की तस्वीरें सामने आती रहती हैं और ऐसा नहीं है कि कोई उनके साथ नहीं गया हो।

उन्होंने आगे कहा, देशभर के सभी मजदूरों ने अपने गृह राज्य की ओर पलायन कर लिया है। सरकार ने ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के माध्यम से मुफ्त राशन और अतिरिक्त रोजगार प्रदान करने जैसे उपायों की बात की है, लेकिन भोजन और आश्रय के बिना यात्रा करने वाले प्रवासी श्रमिकों को जो प्रदान किया जाना चाहिए था, वह वास्तव में पका हुआ भोजन है, जैसे कि सूखा या बाढ़ के दौरान हम पीड़ितों को सहायता प्रदान करते हैं।

सी रंगराजन ने आगे कहा कि, लंबी दूरी की यात्रा करने वाले श्रमिकों को कुछ नकद सहायता दी जा सकती है। इस संकट की घड़ी में हम उनके लिए बेहतर योजना बना सकते थे और प्रवासी श्रमिकों से संबंधित व्यय को थोड़ा और बढ़ाया जा सकता था। अभी भी इस दिशा में सोचने की जरूरत हैं, जब जब उनकी परिवहन जरूरतों को पूरा करने के लिए अतिरिक्त योजनाएं बनाई जा रही हैं।

दिल्ली में कोरोना का कहर जारी, अब तक 90 कंटेनमेंट जोन घोषित, लिस्ट में जुड़े 3 और इलाके

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Former RBI Governor C Rangarajan said on government policies better scheme could be made for migrant laborers
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X