• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पहली बार सेना के जवान टॉप कमांडर्स कॉन्फ्रेंस में होंगे शामिल, 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' पर होगा सम्मेलन

|

अहमदाबाद: गुजरात के केवड़िया में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से संबोधित किए जाने वाले भारत के शीर्ष सैन्य सम्मेलन में पहली बार जूनियर कमीशन अधिकारी (जेसीओ) और जवान भी हिस्सा लेंगे। संयुक्त कमांडरों के सम्मेलन के एक सेंशन के दौरान जेसीओ और जवानों की ओर से सम्‍मेलन में प्रेजेंटेशन देने की भी उम्मीद जताई है।इस सम्मेलन में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, तीन सेवा प्रमुख और सशस्त्र बलों के कमांडर-इन-चीफ रैंक के अधिकारी शामिल होंगे। तीन दिवसीय सम्मेलन गुरुवार से शुरू होगा, पीएम 6 मार्च को अपना भाषण देंगे।

army

जेसीओ और जवानों को वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के साथ अपने साहसी कार्यों के लिए सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए आमंत्रित किया गया है, जहां भारत और चीन सीमा पर जारी गतिरोध के बीच जवानों ने रक्षात्‍मक अभियान में खाइयां खोदने और डिफेंस बैरियर बनाने जैसे कदम उठाए थे। वहीं जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर घुसपैठ की कोशिशों को भी विफल किया।

रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल विनोद भाटिया के मुताबिक संयुक्त कमांडरों के सम्मेलन के दौरान जेसीओ और जवानों के साथ पीएम मोदी की बैठक और बातचीत परंपरा से एक प्रमुख प्रस्थान है और यह निश्चित रूप से सशस्त्र बलों के सभी रैंकों को एक सकारात्मक संदेश भेजेगा।

UAE में ताकत दिखाएगी भारतीय वायु सेना, अमेरिका-फ्रांस के साथ 'युद्धाभ्यास' में शामिल होंगे ये विमानUAE में ताकत दिखाएगी भारतीय वायु सेना, अमेरिका-फ्रांस के साथ 'युद्धाभ्यास' में शामिल होंगे ये विमान

पीएम मोदी ने जवानों के साथ बिताया वक्त

साल 2014 में एनडीए के सत्ता में आने के बाद और फिर 2019 में पीएम ने सैनिकों के साथ दिवाली मनाने के साथ ही कई मौकों पर सेना के जवानों के साथ अपना वक्त बिताया है। पीएम मोदी ने अपने सार्वजनिक भाषणों में भी देश की क्षेत्रीय अखंडता और संप्रभुता की रक्षा करने में सेना की भूमिका को हर बार दोहराया है।

चीन की साइबर सेना से कैसे निपट सकता है भारतचीन की साइबर सेना से कैसे निपट सकता है भारत

पिछले 5 सालों में बदला सम्मेलन का तरीका

आपको बता दें कि सम्मेलन पारंपरिक रूप से दिल्ली में आयोजित किया जाता था, लेकिन पिछले पांच सालों से इसे राष्ट्रीय राजधानी के बाहर आयोजित किया गया है। संयुक्त कमांडरों का सम्मेलन INS विक्रमादित्य पर आयोजित हो चुका है। वहीं भारतीय सैन्य अकादमी, देहरादून और जोधपुर सहित अन्य स्थानों पर आयोजित किया जा चुका है। इस बार यह गुजरात के केवड़िया शहर में सरदार वल्लभ भाई पटेल की स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के सामने आयोजित किया जा रहा है।

English summary
first time JCO and jawans participate top military commanders Conference in gujrat
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X