• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

फैक्ट चेक: शाहीन बाग का बताकर वायरल किया जा रहा पैसे बांटने का वीडियो मणिपुर का

|

नई दिल्ली। दिल्ली के शाहीन बाग में संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन कर रही महिलाओं को रुपए बांटे जाने का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। फैक्ट चैक करने वाली वेबसाइटों ने पाया है कि ये वीडियो सही नहीं है, ये मणिपुर का पुराना वीडियो है, जिसे शाहीन बाग का बताकर कई लोगों ने सोशल मीडिया पर शेयर किया है।

शाहीन बाग वीडियो की सच्चाई, fact check shaheen bagh viral video, citizenship amendment act, fact check, shaheen bagh protest, delhi, viral video, दिल्ली, नागरिकता संशोधन कानून, शाहीन बाग, वायरल वीडियो

जो वीडियो में शेयर किया जा रहा है, उसमें लाइन लगाकर लोग आ रहे हैं और एक शख्स उन्हें पैसा दे रहा है। कई के हाथों में कांग्रेस पार्टी का झंडा है। साथ ही राहुल गांधी की आवाज भी आ रही है, वो भाषण दे रहे हैं। इस वीडियो के साथ लिखा गया है कि ये शाहीन बाग का सच है, जहां प्रदर्शन करने वालों को 500 रुपए दिए जा रहे हैं। सामने आया है कि ये वीडियो शाहीन बाग का नहीं है बल्कि मणिपुर का है।

बता दें कि विवादित नागरिकता कानून, एनपीआर और एनआरसी के खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग में 15 दिसंबर, 2019 से धरना चल रहा है। 35 दिनों से सैकड़ों लोग सड़क पर बैठे हैं। शाहीन बाग में यह धरना 24 घंटे चालू रहता है। धरने की अगुवाई महिलाएं कर रही हैं। शाहीन बाग में चल रहे इस विरोध-प्रदर्शन को आसपास के लोगों के अलावा जामिया के छात्रों और कई संगठनों का भी समर्थन मिल रहा है।

शाहीन बाग की महिलाओं ने BJP आईटी सेल हेड को भेजा मानहानि का नोटिस, की 1 करोड़ के हर्जाने की मांगशाहीन बाग की महिलाओं ने BJP आईटी सेल हेड को भेजा मानहानि का नोटिस, की 1 करोड़ के हर्जाने की मांग

English summary
fact check shaheen bagh protest viral video citizenship amendment act
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X