• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कांग्रेस का दावा: बिना किसी विवाद के 12 बार अनुच्छेद 370 को कमजोर किया

|

नई दिल्ली। कांग्रेस पार्टी ने दावा किया है कि उसने जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 को बिना किसी विवाद के 12 बार 'कमजोर या निरस्त' किया है। पार्टी प्रवक्ता पवन खेड़ा ने रविवार को आयोजित प्रेस वार्ता में कहा, 'एक या दो बार नहीं, बल्कि कांग्रेस पार्टी ने 12 बार अनुच्छेद 370 को कमजोर किया है, लेकिन बिना किसी विवाद के।' उन्होंने कहा कि देश को बातचीत से चलाया जाता है ना कि विवादों से।

congress, pawan kheda, congress spokesperson, jammu kashmir, article 370

खेड़ा ने कहा कि कांग्रेस इस तथ्य को समझती है लेकिन सत्ताधारी भाजपा नहीं। क्योंकि उसकी सारी राजनीति ही विवाद पर आधारित है। पार्टी प्रवक्ता ने कहा कि अनुच्छेद 370 पर उनकी पार्टी का रुख नहीं बदला है लेकिन वह भाजपा सरकार के इसे हटाने के तरीके पर सवाल खड़ा कर रहे हैं। उन्होंने भाजपा सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने जीएसटी को सही तरीके से लागू नहीं किया है।

खेड़ा ने कहा कि यही वजह है कि छोटे कारोबारी, उत्पादनकर्ता और किसान सभी बरबादी की कगार पर खड़े हैं। खेड़ा ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार की नोटबंदी के कारण पूरी अर्थव्यवस्था चरमरा गई है। जब इंदिरा गांधी के कार्यकाल में नोटबंदी हुई थी, तब ना तो अर्थव्यवस्था को कोई नुकसान पहुंचा था और ना ही कोई विवाद हुआ था।

उन्होंने कहा, 'उस समय 10 हजार रुपये के नोट चलन में थे, तब इंदिरा गांधी ने प्रधानमंत्री रहते हुए उनपर प्रतिबंध लगा दिया था। तब ना तो किसी को बैंकों के बाहर कतार में खड़ा होना पड़ा था और ना ही कोई विवाद हुआ था।'

क्षेत्रीय मुक्त व्यापार समझौते पर चिंता जाहिर करते हुए खेड़ा ने कहा कि अगर भारत इसपर हस्ताक्षर कर देता है तो किसान, छोटे व्यापारी और छोटे उत्पादनकर्ता तबाह हो जाएंगे। खेड़ा ने आगे कहा, 'चीन का सामान पहले ही भरपूर मात्रा में उपलब्ध है, जिससे छोटे व्यापारी पहले से ही प्रभावित हैं। अब सरकार चाहती है कि दूध भी न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया से आए।'

English summary
congress party claims it diluted and abrogated article 370 as many as twelve times without creating controversy.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X