• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

CM ममता बनर्जी ने 'नबन्ना चलो' आंदोलन में संघर्ष की समीक्षा के बाद उच्च स्तरीय बैठक की

|

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बीजेपी की विरोध प्रदर्शन रैलियों के 20 से अधिक वीडियो फुटेज की समीक्षा के बाद सीआईडी मुख्यालय (भवानी भवन) में कानून व्यवस्था की स्थिति का मूल्यांकन करने के लिए गुरुवार को गृह सचिव, मुख्य सचिव, कोलकाता पुलिस आयुक्त और महानिदेशक पुलिस के साथ एक उच्च स्तरीय बैठक की।

mamta

ममता सरकार के खिलाफ जो आवाज उठाता है उसकी हत्‍या कर दी जाती है: तेजस्‍वी सूर्या

पार्टी के अंदरूनी सूत्रों ने दावा किया कि जब बीजेपी कार्यकर्ता पुलिस के साथ लड़ाई कर रहे थे, ममता इस तरह की रैलियों से निपटने के लिए राज्य प्रशासन की भविष्य की कार्रवाई की योजना बनाने के लिए रैली के वीडियो का फ्रेम बाय फ्रेम' का मूल्यांकन करने में व्यस्त थीं।

bjp

सीएम ममता बनर्जी ने 2021 के विधानसभा चुनावों को देखते हुए पुलिस प्रशासन को गुरूवार के बंगाल बीजेपी के विरोध मार्च की एक विस्तृत रिपोर्ट तैयार करने का निर्देश भी दिया है और भविष्य में ऐसी भीड़ को अधिक प्रभावी ढंग निपटने के सुझाव भी दिए। ममता बनर्जी शीर्ष नौकरशाहों से मिलने से पहले वह 'नबन्ना' में अपने कार्यालय भी गईं, जहां बंगाल बीजेपी ने नबन्ना चलो आंदोलन के तहत इकट्ठा हुई थी।

अभी भी अधर में है अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों का भविष्य, लेकिन 75% क्षमता के साथ जल्द उड़ान भरेंगी घरेलू फ्लाइट्स

bengal

गौरतलब है राज्य में बीजेपी नेताओं की हत्या के खिलाफ गुरूवार से बंगाल बीजेपी ने नबन्ना चलो आंदोलन शुरू किया, लेकिन भीड़ को नियंत्रित करने के लिए बंगाल पुलिस ने बीजेपी कार्यकर्ताओं पर जमकर लाठीचार्ज किया। साथ ही, वाटर कैनन का इस्तेमाल किया। बीजेपी ने बंगाल पुलिस की कार्रवाई पर नाराजगी जताई और आरोप लगाया है कि पुलिस ने वाटर कैनन में केमिकल मिलाया था, जिससे कई बीजेपी कार्यकर्ताओं की तबियत खराब हो गई।

बोइंग 777 विमान खरीद पर राहुल बोले, 'इतने पैसे में तो सियाचिन में तैनात सैनिकों के गर्म कपड़े आ जाते'

bengal

नबन्ना चलो अभियान में वरिष्ठ नेताओं और पुलिसकर्मियों सहित 100 से अधिक भाजपा कार्यकर्ता घायल होने की सूचना है। राज्य सचिवालय तक आयोजित नबन्ना चलो अभियान एक विरोध रैली के रूप में भाजयुमो द्वारा किया गया था। इस अभियान में जुटे राज्य भर के हजारों भाजपा कार्यकर्ता उन सभी चौराहों पर एकत्रित हुए जो राज्य सचिवालय 'नबन्ना' तक जाते हैं और आगे बढ़ने से रोकने पर पुलिस के साथ टकराव हुआ।

गहलोत-पायलट टकरावः 'फेक न्यूज' चलाने के आरोप में दो पत्रकारों के खिलाफ दर्ज हुई प्राथमिकी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
West Bengal Chief Minister Mamata Banerjee on Thursday to evaluate the law and order situation at the CID headquarters (Bhawani Bhavan) after reviewing more than 20 video footage of BJP's protest rallies and the Home Secretary, Chief Secretary, Kolkata Police Commissioner and Had a high level meeting with the Director General of Police.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X