• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कोरोना वायरस को रोकने के लिए दिल्ली सरकार की बड़ी पहल, CM केजरीवाल ने दी जानकारी

|

नई दिल्ली- दिल्ली सरकार ने कोरोना वायरस के खतरे से निपटने के लिए बड़ी पहल की शुरुआत की है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जानकारी दी है कि राज्य सरकार ने एहतियाती उपाय के तहत डीटीसी की बसों, दिल्ली मेट्रो और अस्पतालों को लगातार संक्रमणरहित और कीटाणुरहित करने का फैसला किया है। केजरीवाल ने बताया कि राजधानी में अभी तक कोरोना वायरस से पीड़ित तीन मरीजों की जानकारी सामने आई है और एक मामला अभी भी निगरानी में है। उन्होंने लोगों से अपील की है कि वो भीड़ वाली जगहों पर जाने से परहेज करें और कोई व्यक्ति अगर विदेश से आता है तो सरकार को उसकी सूचना दें।

दिल्ली सरकार की विशेष पहल

दिल्ली सरकार की विशेष पहल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एहतियाती कदम को और सख्त करने की जानकारी देते हुए बताया है कि "डीटीसी और क्लस्टर बसों, दिल्ली मेट्रो और अस्पतालों को रोजाना संक्रमणरहित करने का आदेश दिया गया है।" उन्होंने बताया है कि "दिल्ली में अभी तक कोरोना वायरस के तीन मामले सामने आए हैं। एक मामले की जांच अभी चल रही है। मैं सभी से कहना चाहता हूं कि दिल्ली सरकार इसको लेकर चिंतित है, लेकिन हम इससे निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।" मुख्यमंत्री ने ये भी बताया है कि दिल्ली के 25 अस्पतालों में कोरोना वायरस के मरीजों के लिए 168 आइसोलेशन बेड तैयार किए गए हैं। उन्होंने दिल्ली के लोगों से ये अपील भी की है कि अगर उनके पड़ोस में पिछले 14 दिनों में कोई विदेश से आया है तो उन्हें सरकार को इसकी जानकारी देनी चाहिए।

स्वस्थ लोगों को मास्क की जरूरत नहीं- केजरीवाल

स्वस्थ लोगों को मास्क की जरूरत नहीं- केजरीवाल

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने रविवार को इसको लेकर बनी प्रदेश टास्क फोर्स की बैठक भी ली और कहा कि लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है। उन्होंने इस वायरस की समस्या से निपटने के लिए सबकी सहायता भी मांगी है। उन्होंने ये भी बताया कि जो लोग कोरोना वायरस संक्रमित पाए गए हैं, उनमें से पहला पिछले 14 दिनों में 105 लोगों के संपर्क में आया, दूसरा 168 लोगों के संपर्क में आया और तीसरा 64 लोगों के संपर्क में आया। केजरीवाल ने कहा कि, 'जो लोग भी संपर्क में आए थे उन्हें अलग रखा गया है और उनका सैंपल लेकर लक्षणों की जांच की जा रही है।' सीएम ने लोगों से ये भी कहा कि स्वस्थ लोगों को मास्क पहनने की जरूरत नहीं है और इसीलिए उसे खरीदकर रखने की भी आवश्यकता नहीं है।

भीड़ में जाने से बचने की अपील

भीड़ में जाने से बचने की अपील

केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली सरकार के अस्पतालों के 40 डॉक्टरों की एयरपोर्ट पर तैनाती की गई है और जो भी यात्री आ रहे हैं उनकी थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही घर जाने दिया जा रहा है। खासकर जो लोग दिल्ली के हैं उनपर 14 दिनों तक लक्षणों की निगरानी रखी जा रही है। उन्होंने बताया कि अभी तक एयरपोर्ट पर 1,40,603 यात्रियों की स्क्रीनिंग की गई है और उनपर निगरानी रखी जा रही है। इस दौरान केजरीवाल ने नियोक्ताओं से गुजारिश की है कि जिन लोगों को अलग करके रखा जा रहा है, उन्हें वेतन-सहित छुट्टियां दें, ताकि उनका जीवन-यापन न प्रभावित हो। इस समय दिल्ली में 25 अस्पतालों में सैंपल जमा करने की सुविधा है, जिनमें 6 निजी अस्पताल हैं। इन अस्पतालों में सैंपल देने वालों और इलाज के लिए आने वाले मरीजों के लिए अलग-अलग व्यवस्था है ताकि कोई मरीजों के संपर्क में न आ सके। उन्होंने लोगों से ये भी अपील की है कि कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए भीड़भाड़ वाले स्थानों पर न जाएं।

इसे भी पढ़ें- महामारी सार्स की दवा खोजने वाले प्रोफेसर ने Coronavirus को लेकर दी चेतावनी, जानिए क्‍या

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
CM Kejriwal gives big initiative of Delhi government to stop coronavirus
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X