• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Chhath Puja Second Arghya time: शनिवार को दिया जाएगा उगते सूरज को अर्घ्य, जानिए अपने शहर का सूर्योदय Time

|

Chhath Puja Second Arghya time: इस वक्त पूरा बिहार लोक आस्था के महापर्व 'छठ' के रंग में रंगा हुआ है, आज शाम सूर्य भगवान को पहला अर्घ्य दिया जाएगा, इसके बाद 21 नवंबर यानी की शनिवार सुबह उगते हुए सूर्य को अर्घ्य देने के बाद छठ पूजा का समापन होगा, मालूम हो गुरुवार को सूर्यदेव को भोग लगाने के बाद से 36 घंटे का निर्जला व्रत शुरू हो गया था।

    Chhath Puja Arghya: Bihar, Uttar Pradesh समेत देशभर में दिया डूबते सूर्य को अर्घ्य | वनइंडिया हिंदी

    Chhath Puja Second Arghya: जानिए अपने शहर का सूर्योदय Time

    आइए जानते है आपके शहरों में सूर्योदय का समय ( 21 नवंबर)

    • दिल्ली में सूर्योदय सुबह 06:48 बजे
    • पटना में सूर्योदय सुबह 6:12 बजे
    • आरा में सूर्योदय सुबह 06:13 बजे
    • पूर्वी चंपारण में सूर्योदय सुबह 06:14 बजे
    • पश्चिमी चंपारण में सूर्योदय सुबह 06:16 बजे
    • लखनऊ में सूर्योदय सुबह 06:30 बजे
    • वाराणसी में सूर्योदय सुबह 06:20बजे
    • प्रयागराज सूर्योदय सुबह 6:24 बजे
    • कानपुर में सूर्योदय सुबह 6:32 बजे
    • गोरखपुर सूर्योदय सुबह 6:21 बजे
    • बरेली में सूर्योदय सुबह 6:39 बजे
    • मेरठ में सूर्योदय सुबह 6:47 बजे
    • आगरा में सूर्योदय सुबह 6:43 बजे
    • नोएडा में सूर्योदय सुबह 6:48 बजे
    • सिवान में सूर्योदय सुबह 6:16 बजे
    • लखीसराय में सूर्योदय सुबह 6:07 बजे

    ये है अर्घ्य का मुहूर्त

    दूसरा सूर्य अर्घ्य ( 21 नवंबर): 6 बजकर 48 मिनट

    क्या है अर्घ्य का महत्व

    प्रथम अर्घ्य के बाद अगली सुबह का अर्घ्य प्रातः कालीन उदित सूर्य का होता है। पानी में खड़े होकर यह अर्घ्य दिया जाता है। प्रथम अर्घ्य और द्वितीय अर्घ्य के बीच का समय ही तप का होता है जिसमें हम छठ माता को प्रसन्न करते हैं। बता दें कि ये अकेला ऐसा व्रत है , जिसमें डूबते हुए सूरज (अस्तांचल) और उगते हुए सूरज (उदित सूर्य) दोनों की पूजा की जाती है।उदित सूर्य एक नए सवेरा का प्रतीक है, अस्त होता हुआ सूर्य केवल विश्राम का प्रतीक है इसलिए छठ पूजा के पहले दिन अस्त होते हुए सूर्य को पहला अर्घ्य देते हैं, जो लोगों को ये बताता है कि दुनिया खत्म नहीं हुई, कल फिर सवेरा होगा। मालूम हो कि अथर्ववेद के अनुसार षष्ठी देवी भगवान भास्कर की मानस बहन हैं। भगवान सूर्य तेजस्वी और यशस्वी पुत्र देते हैं।

    यह पढ़ें: Devutthana Ekadashi Vrat 2020: 25 नवंबर को निद्रा से जागेंगे भगवान श्रीहरि विष्णु, शुरू होंगे मांगलिक कार्य

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Read here Chhath Puja Second Arghya time ( 21st November),Please know Sunrise Time in Your Cities and shubh muhurat for usha kaal.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X