त्रिपुरा में बोले अमित शाह: गरीबों की कमाई खाने वालों को हम उल्टा लटका कर सीधा करेंगे

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

अगरतला। त्रिपुरा की लगभग दो तिहाई आबादी गरीबी रेखा से नीचे जीने को विवश है, एक चौथाई जनसंख्या के पास शुद्ध पीने का पानी उपलब्ध नहीं है, बिजली का भी यही हाल है और 37 लाख की आबादी में से 8 लाख पढ़े-लिखे लोग बेरोजगार हैं। यह बात भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने त्रिपुरा में चुनावी प्रचार के दौरान कही। शाह ने कहा कि हम त्रिपुरा की परिस्थति, यहां के किसान, बेरोजगारों के जीवन में परिवर्तन करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि कम्युनिस्ट दुनिया से ख़त्म हो चुकी है और कांग्रेस देश से। मुझे इस बात का पूरा भरोसा है कि त्रिपुरा की जनता भी देश और दुनिया के साथ कदम-ताल करते हुए राज्य में भाजपा की सरकार बनायेगी। शाह ने कहा कि हम यहां चल रही हिंसा की राजनीति को बदल कर विकास की राजनीति त्रिपुरा में लाना चाहते हैं।

रुपया जो मोदी सरकार ने भेजा था वो...

रुपया जो मोदी सरकार ने भेजा था वो...

शाह ने कहा कि कांग्रेस के समय 13वें वित्त आयोग में सेन्ट्रल टैक्स में त्रिपुरा की हिस्सेदारी जहां मात्र 7283 करोड़ रुपये थी, वही आज मोदी सरकार में लगभग तीन गुणी बढ़ कर 14वें वित्त आयोग में 25396 करोड़ रुपये हो गयी है। शाह ने कहा कि 13 वें वित्त आयोग में त्रिपुरा को 7283 करोड़ मिला लेकिन 14वें वित्त आयोग में मोदी जी ने त्रिपुरा को 25396 करोड़ रुपया दिया है। त्रिपुरा की जनता के लिए आया करीब 18 हजार करोड़ रुपया जो मोदी सरकार ने भेजा था, वो वाम दलों के काडर को भेंट चढ़ गया।

सात लाख से अधिक हो गए बेरोजगार

सात लाख से अधिक हो गए बेरोजगार

उन्होंने कहा कि कल हमारे कार्यकर्ता को लहूलुहान कर दिया। वाम दलों को मैं कहने आया हूं कि इस बार मुकाबला भाजपा से है और सारे कार्यकर्ताओं से आह्वान करता हूँ की दम के साथ खड़े रहिये। एक बार त्रिपुरा में परिवर्तन करवा दीजिये ये लाल झंडे वाले नहीं दिखेंगे। उन्होंने कहा कि मैं त्रिपुरा के सभी नागरिकों को आश्वस्त करने आया हूं कि गरीबों की कमाई खाने वालों को हम उल्टा लटका कर सीधा करेंगे। शाह ने कहा कि जब सीपीएम की सरकार इस राज्य में आई तो 25 हजार युवा बेरोजगार थे जो अब सात लाख से अधिक हो गए हैं।

त्रिपुरा का कोई विभाजन नहीं होने वाला

त्रिपुरा का कोई विभाजन नहीं होने वाला

शाह ने कहा कि त्रिपुरा का कोई विभाजन नहीं होने वाला बल्कि भाजपा के आने से इसका और विकास होगा। राज्य सभा सांसद ने कहा कि ये मौजूदा सरकार त्रिपुरा का भला नहीं कर सकती, आप यहां ऐसी सरकार लाइए जो मोदी सरकार के साथ मिलकर त्रिपुरा को मॉडल स्टेट बनाने का काम करे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Bjp President amit shah in tripura assembly election

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.