• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

BJP नेता ने खुद रची थी बेटी के अपहरण की साजिश, ऐसे खुली पोल

|

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले में स्थानीय बीजेपी नेता सुप्रभात बटव्याल को अपनी ही बेटी के अपहरण के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने इस मामले में दो और लोगों को भी गिरफ्तार की है। इस मामले पर एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया है कि बटव्याल की बेटी को गुरुवार को बंदूक की नोक पर अगवा कर लिया था। हालांकि पुलिस ने उत्तर दिनाजपुर पुलिस के साथ एक संयुक्त अभियान में 22 साल की युवती को रविवार सुबह दालखोला रेलवे स्टेशन इलाके से बरामद किया।

शुरुआती जांच में पिता और उसके सहयोगियों पर शक

शुरुआती जांच में पिता और उसके सहयोगियों पर शक

पुलिस को बीजेपी नेता और उसके दो सहयोगियों को उस समय गिरफ्तार किया जब शुरुआती जांच में पता चला कि अपहरण में उनकी भूमिका है। वहीं बीरभूम जिले के पुलिस अधीक्षक श्याम सिंह ने बताया कि हमने आज सुबह दालखोला से लड़की को छुड़ाया है। वह ठीक है और हम उससे बात कर यह जानने का प्रयास कर रहे हैं कि आखिर हुआ क्या था। इसी संबंध में लड़की के पिता को भी गिरफ्तार किया गया है क्योंकि हमें लगता है कि बेटी के अपहरण में उसने भी अहम भूमिका निभाई है।

बेटी के अपहरण के पीछे की मंशा

बेटी के अपहरण के पीछे की मंशा

पुलिस इस केस को हर नजरिए से जांचने में जुटी हुई है। पुलिस अधीक्षक श्याम सिंह ने कहा कि इसके दो पहलू हैं। पहला तो पारिवारिक समस्या है और दूसरा यह भी हो सकता है कि राजनीतिक फायदा लेने के मकसद से भी ऐसा किया गया हो। हालांकि पुलिस इस पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है और तीनों से पूछताछ भी कर रही है। पुलिस ने बताया कि करीब तीन महीने पहले ही बटव्याल तृणमूल कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए हैं। पुलिस का ये भी कहना है कि बटव्याल से पूछताछ के बाद ही उसकी बेटी के ठिकाने के बारे में पता चला था।

बेटी के अपहरण के बाद बन गई थी तनाव की स्थिति

बेटी के अपहरण के बाद बन गई थी तनाव की स्थिति

बता दें कि बेटी के अपहरण के बाद लाभपुर में तनाव की स्थिति बन गई थी। शहर में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया था। यहां तक की प्रदर्शनकारियों ने तीन दिन से सूरी कटवा रोड जाम कर रखा था। इसके अलावा शनिवार को भीड़ ने तृणमूल कांग्रेस के स्थानीय विधायक मनिरुल इस्लाम की गाड़ी पर हमला कर उनको वापस लौटने को मजबूर कर दिया था। जिसके बाद उनको स्थानीय थाने में शरण लेनी पड़ी। पुलिस ने बताया कि बटव्याल पहले माकपा की जिला कमेटी का सदस्य भी रह चुका है। उसके बाद उसने तृणमूल कांग्रेस ज्वाइन की और अब बीजेपी का दामन थाम लिया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
BJP leader role in kidnapping daughter, arrested by West Bengal police
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X