• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Ayodhya Verdict: बांग्‍लादेशी मीडिया में दावा, फैसले के बाद पीएम मोदी ने दी CJI गोगोई को बधाई, भारत ने बताया झूठा और बकवास

|

नई दिल्‍ली। बांग्‍लादेश की मीडिया में इस तरह की खबरें आ रही हैं जिनमें दावा किया जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्‍या पर आए फैसले के बाद चीफ जस्टिस रंजन गोगोई को बधाई दी है। भारत की तरफ से इस पर प्रतिक्रिया दी गई है और कहा गया है कि इस तरह की खबरें पूरी तरह झूठी और मनगढ़ंत हैं। आपको बता दें कि पिछले दिनों आए फैसले में सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्‍या मामले में विवादित जमीन को राम जन्‍मभूमि न्‍यास को देने का आदेश दिया है।

विदेश मंत्रालय और उच्‍चायोग ने जारी किया बयान

विदेश मंत्रालय और उच्‍चायोग ने जारी किया बयान

विदेश मंत्रालय की तरफ से इस तरह की खबरों की निंदा की है और कहा है कि जो लोग इसके लिए जिम्‍मेदार हैं वे वाकई गलत दिशा में जा रहे हैं। विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता रवीश कुमार ने कहा, 'जो लोग जान-बूझकर इस तरह की झूठी और मनगढ़ंत खबरों को फैला रहे हैं हम उनकी कड़ी निंदा करते हैं। ऐसे लोगों का काम समुदायों में मतभेद पैदा करना, असामंजस्य पैदा करना और भारत-बांग्‍लादेश के लोगों के बीच दोस्‍तों को कमजोर करने की कोशिशें करना है।' ढाका में भी भारतीय उच्‍चायोग की तरफ से भी इस पर आधिकारिक बयान जारी किया गया है।

गलतफहमी पैदा करने की कोशिश

गलतफहमी पैदा करने की कोशिश

विदेश मंत्रालय की तरफ से इस तरह की खबरों की निंदा की गई है। मंत्रालय की तरफ से कहा गया है कि जो लोग इसके लिए जिम्‍मेदार हैं वे वाकई गलत दिशा में जा रहे हैं। प्रवक्‍ता रवीश कुमार ने कहा, 'जो लोग जान-बूझकर इस तरह की झूठी और मनगढ़ंत खबरों को फैला रहे हैं, हम उनकी कड़ी निंदा करते हैं। ऐसे लोगों का काम समुदायों में मतभेद पैदा करना, असामंजस्य पैदा करना और भारत-बांग्‍लादेश के लोगों के बीच दोस्‍ती को कमजोर करने की कोशिशें करना है।' ढाका में भी भारतीय उच्‍चायोग की तरफ से भी इस पर आधिकारिक बयान जारी किया गया है।

क्‍या था पूरा मसला

क्‍या था पूरा मसला

बांग्‍लादेश की मीडिया में एक फेक चिट्ठी सामने आई थी। इसमें कहा गया था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीजीआई गोगोई को अयोध्‍या फैसले पर बधाई दी। इस चिट्ठी की मानें तो अयोध्‍या का फैसला हिंदू राष्‍ट्र के निर्माण में बड़ा योगदान करने वाला फैसला साबित हुआ है। अभी तक इस बात का पता नहीं लग सका है कि यह चिट्ठी किसने लिखी है और यह भी साफ नहीं हो सका है कि बांग्‍लादेश मीडिया में यह चिट्ठी कैसे आई।

पिछले कुछ वर्षों में और मजबूत हुए संबंध

पिछले कुछ वर्षों में और मजबूत हुए संबंध

भारत और बांग्‍लादेश के बीच इस समय संबंध काफी मजबूत हैं। दोनों देश सुरक्षा से लेकर इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर जैसे सेक्‍टर में विकास कार्यों में आपसी सहयोग को आगे बढ़ा रहे हैं। इसके अलावा पीएम मोदी और बांग्‍लादेशी पीएम शेख हसीना ने भी संबंधों को मजबूत करने की दिशा में व्‍यक्तिगत तौर पर योगदान दिया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Bangladesh Media claiming PM Modi congratulating CJI over Ayodhya ruling and its a fake news.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X