नीतीश कुमार पर बढ़ा दबाव, गिरिराज सिंह ने कहा 'मौनी बाबा'

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। आरजेडी चीफ लालू यादव के ठिकानों पर छापेमारी के बाद बिहार के सीएम नीतीश कुमार की बेचैनी भी बढ़ गई है। अभी वो खुलकर कोई फैसला नहीं ले पा रहे हैं। इसी बीच उनके ऊपर दबाव भी बढ़ने लगा है। केंद्रीय मंत्री गीरिराज सिंह ने कहा है कि नीतीश कुमार मौनी बाबा बने हुए है लेकिन अब उनको अपना मौन तोड़ना होगा।

मौनी बाबा बनने से काम नहीं चलेगा

मौनी बाबा बनने से काम नहीं चलेगा

लालू यादव के ठिकानों पर सीबीआई छापों के बाद नीतीश कुमार पर दबाव बढ़ने लगा है। केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा है 'बहुत पुरानी कहावत है कि बोया पेड़ बबूल का तो आम कहां से होय, जब सुशील कुमार मोदी ने मिट्टी घोटाले से लेकर अन्य तमाम आरोप लगाए थे, तब नीतीश कुमार ने भी कहा था कि बीजेपी के लोग आरोप लगा रहे हैं, केवल प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हैं, अगर सच है तो सामने आए, अब सच सामने आ रहा है तो इसमें किसी को भी तकलीफ नहीं होनी चाहिए' साथ ही गिरिराज सिंह ने कहा कि नीतीश कुमार अभी तक मौनी बाबा बने हुए हैं लेकिन अब उनको अपना मौन तोड़ना पड़ेगा।

लालू के बेटों को मंत्रिमंडल से बाहर करें नीतीश

लालू के बेटों को मंत्रिमंडल से बाहर करें नीतीश

लालू के ठिकानों पर सीबीआई छापों के बाद बीजेपी नेता सुशील मोदी ने भी नीतीश पर दबाव बनाने की कोशिश की है, सुशील मोदी ने कहा है कि अब नीतीश कुमार को लालू के बेटों को अपने कैबिनेट से हटा देना चाहिए। बीजेपी नेताओं का कहना है कि तेजस्वी यादव के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज हुआ है। नीतीश को ये अब बताना होगा कि वो कुशासन के साथ हैं या फिर सुशासन के साथ।

12 ठिकानों पर सीबीआई ने की छापेमारी

12 ठिकानों पर सीबीआई ने की छापेमारी

केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के खिलाफ मामला दर्ज किया है। सीबीआई ने शुक्रवार सुबह लालू यादव के 12 ठिकानों पर छापेमारी की। सीबीआई के एडिशनल डायरेक्टर राकेश अस्थाना ने कार्रवाई की जानकारी देते हुए बताया कि पटना, रांची, भुवनेश्वर, गुरुग्राम में सुबह से छापेमारी की गई। राकेश ने जानकारी दी कि 5 जुलाई 2017 को सीबीआई ने लालू यादव, तेजस्वी, राबड़ी देवी, सरला गुप्ता, विजय कोचर, विनय कोचर , मेसर्स डिलाइट मार्केटिंग कंपनी लिमिटेड और IRCTC के MD रहे पीके गोयल के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। सीबीआई के एडिशनल डायरेक्टर राकेश अस्थाना ने प्रेस वार्ता में कहा कि IPC की धारा 120 B, 420, Prevention of Corruption Act, 1988 की धारा 31 D और 32 के तहत मामले दर्ज किए गए हैं। उन्होंने बताया कि आपराधिक साजिश और धोखाधड़ी का केस दर्ज किया गया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
after cbi raid on lalu premises,bjp is targeting nitish
Please Wait while comments are loading...