• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दिलचस्प है जगदीप को शोले में सूरमा भोपाली का रोल मिलने की कहानी, जानिए क्या था किस्सा

|

नई दिल्ली। फिल्‍म जगत एक्टर और कॉमेडियन जगदीप का बुधवार को निधन हो गया। वे 81 साल के थे और काफी समय से बीमार चल रहे थे। जगदीप का असली नाम सैयद इश्तियाक अहमद जाफरी था। फिल्मों में वो जगदीप के नाम से मशहूर हुए। 400 से ज्यादा फिल्में करने वाले जगदीप को सुपरहिट फिल्म 'शोले' में निभाए अपने किरदार सूरमा भोपाली के लिए खूब पंसद किया गया। ये किरदार एक तरह से उनकी पहचान बन गया था और दर्शक उन्हें सूरमा भोपाली ही बुलाते थे। 1975 में आई इस फिल्म में जगदीप को सूरमा भोपाली का रोल मिलने का किस्सा कापी दिलचस्प है। जो उन्होंने एक इंटरव्यू में खुद ही बताया था।

ऐसे मिला रोल

ऐसे मिला रोल

एक इंटरव्यू में जगदीप ने बताया था कि शोले की शूटिंग जब तकरीबन खत्म हो चुकी थी तो फिल्म के निर्माता रमेश सिप्पी का फोन आया और मुझसे पूछा कि तुम्हें शोले फिल्म में काम करना है। मैंने कहा कि शूटिंग तो खत्म हो गई. इस पर उन्होंने कहा कि नहीं असली सीन अभी बाकी है। इसके बाद उनको सूरमा भोपाली का किरदार मिला जो बेहद मशहूर हुआ। सूरमा भोपाली के रोल के लिए सिप्पी को वो क्यों याद आए इसके पीछे भी एक किस्सा है।

जगदीप ने बताया था एक फिल्‍म में वो अपने डॉयलाग को लेकर निर्देशक के पास पहुंचे थे। निर्देशक ने कहा कि इस फिल्‍म के लेखक सलीम-जावेद हैं, उनसे मिल लो। यहां से उनकी जावेद अख्तर से जान पहचान हुई। जिसके बाद मिलना-जुलना शुरू हुआ। एक दिन वो जावेद के साथ बैठे थे तो भोपाली लहजे पर बातचीत हुई। यही भोपाली लहजा जावेद को याद रहा और जब 'शोले' में सूरमा भोपाली का रोल रखा गया तो उन्हे इस रोल के लिए बुलवा आया।

 400 से ज्यादा फिल्मों में किया काम

400 से ज्यादा फिल्मों में किया काम

जगदीप का जन्म 29 मार्च 1929 को हुआ था। जगदीप ने 400 से ज्यादा फिल्मों में काम किया था। जगदीप ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत चाइल्ड आर्टिस्ट 'मास्टर मुन्ना' के रूप में बी आर चोपड़ा की फिल्म 'अफसाना' से की थी। इसके बाद चाइल्ड आर्टिस्ट के रूप में ही उन्होंने 'लैला मजनूं' में काम किया। जगदीप ने बिमल रॉय की फिल्म 'दो बीघा जमीन' से कॉमेडी के रोल करने शुरू किए थे। 2012 में वे आखिरी बार 'गली गली चोर' फिल्म में पुलिस कांस्टेबल की भूमिका में नजर आए थे। 2019 में जगदीप को आईफा ने लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया था।

अमिताभ बच्चन ने ऐसे किया याद

अमिताभ बच्चन ने ऐसे किया याद

अमिताभ बच्चन ने जगदीप के निधन के बाद उनको याद करते हुए कहा कि फिल्म जगत ने एक और हीरा खो दिया है। बच्चन ने कहा कि जदगीप सरल व्यक्ति थे जिन्हें लाखों लोगों का प्यार मिला। बच्चन ने अपने ब्लॉग पर लिखा, कल रात हमने एक हीरा जगदीप खो दिया। जगदीप ने अभिनय का अपना एक अलग ही रूप बनाया था। मुझे कई फिल्मों में उनके साथ काम करने का सम्मान मिला था। जगदीप के साथ अमिताभ बच्चन ने 'शोले' और 'शहंशाह' फिल्म में काम किया था। जगदीप के निर्देशन में 1988 में बनी फिल्म 'सूरमा भोपाली' में अमिताभ बच्चन ने गेस्ट रोल किया था।

Video: सूरमा भोपाली जगदीप का आख‍िरी वीड‍ियो हुआ वायरल जिसमें वो बोल रहे आओ हंसते हंसते, जाओ हंसते हंसते

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
actor jagdeep syed ishtiaq ahmed jafri death story behind his role surma bhopali in sholay
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X