हिमाचल प्रदेश चुनाव 2017: सीट नंबर 30 दरंग (अनारक्षित) विधानसभा क्षेत्र के बारे में जानिये

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

शिमला। दरंग विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र हिमाचल प्रदेश विधानसभा के 68 निर्वाचन क्षेत्रों में से एक है। मंडी जिले में स्थित यह निर्वाचन क्षेत्र अनारक्षित है। 2012 में इस क्षेत्र में कुल 72,708 मतदाता थे। 2012 के विधानसभा चुनाव में कौल सिंह इस क्षेत्र के विधायक चुने गए।मंडी जिला में ही नहीं हिमाचल प्रदेश में दरंग विधानसभा क्षेत्र खास महत्व रखता है। यहां से मौजूदा विधायक कौल सिंह ठाकुर की सल्तनत को इस बार करगिल वार के हीरो ब्रिगेडियर खुशहाल सिंह से सीधी चुनौती मिल रही है। तो दूसरी ओर उनके खिलाफ हाल ही में निकली एक आडियो सीडी उनके गले की फांस बन गई है।

darang

यहां तो आम धारणा है कि अगर भाजपा ने ब्रिगेडियर खुशहाल सिंह को भाजपा ने टिकट दिया, तो कौल सिंह ठाकुर चुनाव हार जायेंगे। चुहार वैली की करीब 13 पंचायतें इस चुनाव क्षेत्र में खास महत्व रखती हैं। जिन्हें ओबीसी का दरजा हासिल है। यह चुनाव क्षेत्र राजपूत बहुल्य है। उसके बाद अनूसूचित जाति के मतदाता आते हैं। लेकिन यहां जातिगत समीकरण व्यक्तित्व के आगे बौने ही साबित हुये हैं। चूंकि कौल सिंह के मुकाबले यहां मजबूत नेता उभर ही नहीं पाया। लेकिन इस बार ब्रिगेडियर खुशहाल सिंह के मैदान में आने से कौल सिंंंह के पसीने छूट रहे हैं। कौल सिंह के भाजपा में भी हमदर्द हैं। जिनके सहारे उनकी कोशिश है कि इस बार ब्रिगेडियर खुशहाल सिंह को भाजपा का टिकट नहीं मिले। ब्रिगेडियर खुशहाल सिंह को अपने फोर लेन संर्घष समिति का अच्छा खासा फायदा मिला है। व वह इलाके में खासे लोकप्रिय हैं।  दरंग विधानसभा क्षेत्र दुर्गम है। प्रदेश का पहला ऐसा चुनाव क्षेत्र है जो करीब 900 किलो मीटर क्षेत्र में फैला हुआ है।
kaulsingh

दरंग से अभी तक चुने गये विधायक
वर्ष चुने गये विधायक पार्टी संबद्धता
2012 कौल सिंह कांग्रेस
2007 कौल सिंह कांग्रेस
2003 कौल सिंह कांग्रेस
1998 कौल सिंह कांग्रेस
1993 कौल सिंह कांग्रेस
1990 दीनानाथ भाजपा
1985 कौल सिंह कांग्रेस
1982 कौल सिंह कांग्रेस
1977 कौल सिंह जनता पार्टी

kaulsingh

कौल सिंह ठाकुर साधारण परिवार से राजनति में आये
कौल सिंह ठाकुर साधारण परिवार से राजनति में आये व सफलता हासिल करते गये। कांग्रेस नेता कौल सिंह ठाकुर पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ से ला ग्रेजूयेट हैं। उनका एक बेटे व तीन बेटियां हैं। पंचायती राज से होकर राजनिति में आये। सत्तर के दशक में राजनिति में आये कौल सिंह पहली बार 1977 में जनता पार्टी के विधायक बने। बाद में कांग्रेस में शामिल हुये और कांग्रेस टिकट पर लगातार 1982,1985,1993,1998 और 2007 में विधायक चुने गये। विभिन्न कांग्रेस सरकारों में कबीना मंत्री रहे। छठी बार 2012 में विधायक चुने गये।
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
himachal pradesh election 2017 know about Darang assembly seat
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.