• search
हरियाणा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

हरियाणा: जजपा MLA बबली का किसानों से विवाद, विरोध बढ़ा तो 27 में से 25 किसान रिहा, भाकियू की चेतावनी

|

हिसार/जींद, जून 04। हरियाणा में सत्तारूढ़ जजपा के विधायक देवेंद्र बबली का किसान-प्रदर्शनकारियों से हुआ विवाद गहराता जा रहा है। दरअसल, टोहाना में विधायक की कोठी का घेराव करने के आरोप में 27 प्रदर्शनकारी गिरफ्तार कर लिए गए थे, जिन्हें छुड़ाने के लिए सैकड़ों किसान प्रदर्शन करने लगे। प्रदर्शनकारियों ने बुधवार को तो रात से सुबह तक 13 घंटे थाने को घेरे रखा। उसके बाद गुरुवार सुबह 25 किसानों को रिहा कर दिया गया। महिला किसान मनीषा बिश्नोई भी पुलिस ने मुक्त कीं। हालांकि, अभी किसान संगठन इस बात पर अड़े हुए हैं कि, विधायक माफी मांगें और अन्य किसानों को भी छोड़ा जाए।

farmers protest In Haryana: many protesters held after dispute with JJP MLA Devender Babli

27 में से 25 प्रदर्शनकारी छोड़े गए, 2 जेल भेजे
खबर है कि, टोहाना में विधायक की कोठी का घेराव करने को लेकर की योजना बनाने के आरोपी हिसार के विकास सीसर, भिवानी के रवि आजाद को अदालत में पेश किया गया, जहां से जेल भेज दिया गया। अब इन्हीं दो जनों को छुड़ाने की मांग किसान संगठनों की ओर से की जा रही है। किसानों ने थाने का घेराव किया और लघु सचिवालय के बाहर भी प्रदर्शन कर विधायक का पुतला फूंका। वहीं, दूसरी ओर हिसार-राजगढ़ रोड पर चाैधरीवास टाेल, हिसार-सिरसा रोड पर लांधड़ी टाेल बंद करना पड़ गया।

farmers protest In Haryana: many protesters held after dispute with JJP MLA Devender Babli

टिकैत बोले- 2024 में आंदोलन नहीं करना पड़ेगा
इस पूरे मामले में खास बात यह भी है कि, किसान संगठनों के अगुआ बंटे नजर आ रहे हैं। हरियाणा के ही किसान नेता (भाकियू अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढ़ूनी) चढ़ूनी दूसरे दिन भी टोहाना के किसानों की गलती कहते रहे, जबकि किसान संयुक्त मोर्चा प्रदर्शनकारियों के समर्थन में आ गया। भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत भी जींद पहुंचे और सरकार पर करारे वार किए। टिकैत ने कहा कि जिस पार्टी ने नए कृषि कानूनों को सही ठहराया, किसान उसका सूपड़ा साफ करने का काम करेंगे। टिकैत बोले कि, सरकार माने या ना माने, लेकिन 2024 में आंदोलन नहीं करना पड़ेगा।

राकेश टिकैत ने कहा- किसान आंदोलन की जीत होगी, यह वैचारिक क्रांति है, ऐसी क्रांति कभी खत्म न होतीराकेश टिकैत ने कहा- किसान आंदोलन की जीत होगी, यह वैचारिक क्रांति है, ऐसी क्रांति कभी खत्म न होती

राकेश टिकैत संयुक्त किसान मोर्चा के सदस्य भी हैं। वे प्रदर्शनकारियों को समर्थन जताने गांव उझाना पहुंचे। जहां उन्होंने कहा कि 2024 तब तक कृषि कानून रद्द हो जाएंगे।

farmers protest In Haryana: many protesters held after dispute with JJP MLA Devender Babli

"7 जून को सभी पुलिस थानों काे घेरेंगे"
भारतीय किसान यूनियन की ओर से चेतावनी दी गई है कि, जजपा विधायक बबली ने 6 जून तक माफी न मांगी तो 7 को विधायक पर केस दर्ज करवाने के लिए सभी पुलिस थानों का 2 घंटे के लिए घेराव करेंगे। भाकियू की ओर से टिकैत ने हिसार में कहा कि, जमानत मत करवाओ, आंदोलन को चलाते रहो। इस बीच टोहाना विधायक बबली ने जजपा प्रमुख दुष्यंत चौटाला से मुलाकात की है।

English summary
farmers protest In Haryana: many protesters held after dispute with JJP MLA Devender Babli
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X