• search
गुजरात न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

VIDEO: कोविड वार्ड में बेड पर कोरोना मरीजों ने फूंकी सिगरेट, हथकड़ी लगी थीं तो भी करते रहे बदमाशी

|

सूरत। गुजरात में सूरत शहर के सरकारी अस्पताल के कोरोना वार्ड में कुछ लोगों ने सारे नियम-कायदे ताक पर रख दिए। उन्होंने यहां बेड पर खड़े होकर सिगरेट फूंकी। मास्क उतारकर फेंक दिया। मोबाइल से वीडियो भी रिकॉर्ड किया। जबकि, वे लोग कोरोना से संक्रमित भी थे।

सरकारी अस्पताल के कोरोना वार्ड का वीडियो

सरकारी अस्पताल के कोरोना वार्ड का वीडियो

संवाददाता ने वीडियो भेजकर मामले की पूरी जानकार दी। आप वीडियो में स्पष्ट देख सकते हैं कि, कोरोना संक्रमित कुछ युवक कैसे सिगरेट पी रहे हैं। इन्हें लेकर पुलिस एवं अस्पताल प्रबंधन पर सवाल उठने लगे हैं। जैसे कि, सिगरेट कैसे पहुंची, मोबाइल कहां से आया और जब ये ऐसे सिगरेट पी रहे थे तो कोई रोकने वाला नहीं था क्या?

न जान की परवाह थी, न नियम कायदों की

न जान की परवाह थी, न नियम कायदों की

वीडियो सोशल साइट्स पर वायरल हो गया है। इसी वीडियो में यह भी दिख रहा है कि, इन लोगों ने हथकड़ी पहनी हुई है। संवाददाता ने बताया कि, ये लोग किसी गुनाह के आरोपी हैं। पुलिस ने जब इन्हें पकड़ा तो कोरोना टेस्ट कराया गया। संक्रमण को देखते हुए इन्हें अस्पताल लाया गया। जहां भी इन्हें न तो अपनी जान की परवाह थी और न ही नियम-कानून माने।

अस्पताल के इन्चार्ज ने कही यह बात

अस्पताल के इन्चार्ज ने कही यह बात

अस्पताल के इन्चार्ज आरएमओ का कहना है कि, यह बात मेरे ध्यान में आते ही मैंने सुपरिटेंडेंट को सूचित कर दिया। इस मामले में आखिरी निर्णय सुपरिटेंडेंट द्वारा ही लिया जाएगा। वहां से ऑर्डर मिलने के बाद आगे की जांच होगी और अगर अस्पताल के किसी भी कर्मचारी की गलती साबित हुई तो उसके ऊपर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

पहले भी सामने आते रहे ऐसे केस

पहले भी सामने आते रहे ऐसे केस

अस्पताल परिसर में बदमाशी के पहले भी ऐसे कई किस्से सामने आ चुके हैं। जिनमें 500-1000 रुपये देकर आरोपी जेल में भी मोबाइल इत्यादि सुविधाओं का आनंद ले चुके हैं और ऐसे मामलों में कई कर्मचारी सस्पेंड भी किए गए हैं। लेकिन पुलिस थाना, जेल व हेड क्वार्टर में भी ऐसी सुविधाए आरोपियों को मिल ही जाती हैं।

खून से 'आई लव यू बाबू' लिखकर नव विवाहिता ने फांसी लगाई, मृतका की मां बोली- बेटी की हत्या हुई है

हर आरोपी का होता है कोरोना टेस्ट

हर आरोपी का होता है कोरोना टेस्ट

मालूम हो कि, पुलिस द्वारा पकड़े गए सभी आरोपितों का कोरोना टेस्ट अनिवार्य किया गया है। इस दौरान जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आती है, उसे कोरोना वार्ड में उपचार के लिए रखना पड़ता है। नए सिविल अस्पताल में ऐसे आरोपियों के लिए खास वार्ड बनाया गया है। इसी वार्ड में रखे गए आरोपियों का वीडियो वायरल हुआ है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Watch: Coronavirus patients cigarette smoking on the bed in Covid ward at surat govt hospital Gujarat, video goes to viral
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X