• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Children's Day: आखिर क्यों 14 नवंबर को मनाया जाता है बाल दिवस?

|

लखनऊ। हर वर्ष 14 नवंबर को देशभर में बाल दिवस के रूप में मनाया जाता है। 14 नवंबर को देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू का जन्म हुआ था। पंडित नेहरू को बच्चों से काफी प्रेम था, इसी वजह से बच्चे उन्हें प्यार से चाचा नेहरू कहकर पुकारते थे। 14 नवंबर को इसलिए हर वर्ष बाल दिवस के रूप में मनाया जाता है ताकि बच्चों के लिए प्रेम और लगाव की क्या महत्ता है इसे समझा जा सके। पंडित नेहरू का मानना था कि लोग हमारे बारे में क्या सोचते हैं इससे कहीं ज्यादा मायने यह रखता है कि हम वास्तविक जीवन में क्या हैं।

पंडित नेहरू बच्चों से बहुत प्यार करते थे

पंडित नेहरू बच्चों से बहुत प्यार करते थे

पंडित नेहरू ने बच्चों के बार में कहा था कि आज के ये बच्चे कल के भारत का निर्माण करेंगे। हमारा देश भविष्य में कैसा होगा, यह इस बात पर निर्भर करता है कि हम अपने बच्चों का लालन-पालन कैसे करते हैं। पूर्व प्रधानमंत्री बच्चों की शिक्षा को खास महत्व देते थे। देश के जाने माने ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइसेंज यानि एम्स की स्थापना में भी पंडित नेहरू ने खास भूमिका निभाई थी। ना सिर्फ एम्स बल्कि इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट और नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी की भी स्थापना का श्रेय पंडित नेहरू को जाता है।

20 नवंबर को दुनियाभर में मनाया जाता है बाल दिवस

20 नवंबर को दुनियाभर में मनाया जाता है बाल दिवस

दुनियाभर में बाल दिवस को 20 नवंबर को मनाया जाता है। भारत में बाल दिवस मनाने की शुरुआत 1956 में हुई थी। 1964 तक भारत में भी बाल दिवस 20 नवंबर को ही मनाया जाता था। लेकिन पंडित नेहरू के 1964 में निधन के बाद हर वर्ष 14 नवंबर को भारत में बाल दिवस के रूप में मनाया जाता है। बता दें कि युनाइटेड नेसंश ने 20 नवंबर को बाल दिवस के रूप में घोषित किया था और कई देशों में आज भी 20 नवंबर को बाल दिवस मनाया जाता है।

बच्चों के उत्थान का लक्ष्य

बच्चों के उत्थान का लक्ष्य

बाल दिवस मनाने की एक बड़ी वजह यह भी है ताकि इस दिन बच्चों की बेहतर शिक्षा सहित तमाम अहम फैसले बच्चों के उत्थान के लिए लिए जाएं। बता दें कि बाल दिवस के दिन बच्चों की बेहतरी के लिए बड़े फैसले लिए जाते हैं। बाल दिवस के मौके पर ही बाल मजदूरी पर रोक लगाने का कानून पास किया था और 14 साल से कम उम्र के बच्चों से काम करवाना कानून अपराध की श्रेणी में आ गया।

देशभर के स्कूलों में मनाया जाता है

देशभर के स्कूलों में मनाया जाता है

बाल दिवस की खासियत यह है कि इस दिन तमाम स्कूलों में इस दिन को हर्ष और उल्लास से मनाया जाता है। बता दें कि पंडित जवाहर लाल नेहरू का जन्म 14 नवंबर 1889 में हुआ था। उन्होंने देश के स्वतंत्रता आंदोलन में काफी सक्रिय भूमिका निभाई थी और देश की आजादी के बाद वह देश के पहले प्रधानमंत्री बने थे।

इसे भी पढ़ें- बीजेपी को मिला 743 करोड़ रुपए का चुनावी चंदा, कांग्रेस को मिली कुल रकम से तीन गुना

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Children's Day 2019: Know The History of Children's Day in Hindi.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X