• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

लॉकडाउन पार्ट-1 में अर्थव्यवस्था को 4.8 लाख करोड़ का नुकसान: IIT-Bombay

|

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मामले को देखते हुए लॉकडाउन की समयसीमा को 14 अप्रैल से बढ़ाकर 3 मई कर दिया गया है। लॉकडाउन की वजह से देश की अर्थव्यवस्था को नुकसान हो रहा है। कंपनियां, फैक्ट्री, इंडस्ट्री, ऑफिस, बाजार, मॉल्स सब बंद है। जरूरी सेवाओं को छोड़कर देश को पूरी तरह से लॉक किया गया है। ऐसे में देश की इकोनॉमी को बड़ा नुकसान हो रहा है। आईआईटी बॉम्बे ने लॉकडाउन की वजह से देश की अर्थव्यवस्था को हो रहे नुकसान का आंकलन करते हुए रिपोर्ट जारी की है।

Lockdown से रोजाना 4.64 अरब डॉलर का नुकसान, 23.4% बढ़ेगी बेरोजगारी

IIT-B की रिपोर्ट

IIT-B की रिपोर्ट

आईआईटी बॉम्बे ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि 14 अप्रैल तक के 3 हफ्ते के लॉकडाउन में इकोनॉमी पर बड़ा नुकसान हुआ है। आईआईटी के रिसर्चर के मुताबिक देश की इकोनॉमी को इन 21 दिनों में 4.8 लाख करोड़ का नुकसान हुआ है। सबसे ज्यादा नुकसान महाराष्ट्र, गुजरात, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश और कर्नाटक को हुआ है। लॉकडाउन की वजह से मांग में कमी आई है।

रेटिंग एजेंसी एक्यूट की रिपोर्ट

रेटिंग एजेंसी एक्यूट की रिपोर्ट

वहीं रेटिंग एजेंसी एक्यूट रेटिंग्स एंड रिसर्च के मुताबिक लॉकडाउन की वजह से भारत को रोजाना 4.64 अरब डॉलर का नुकसान हो रहा है। 21 दिन के इस लॉकडाउन का असर जीटीसी पर पड़ना भी तय है। रेटिंग एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक लॉकडाउन के पूरे 21 दिनों के दौरान जीडीपी को 98 अरब डॉलर का नुकसान हुआ है।

 लॉकडाउन की वजह से देश में बेरोजगारी बढ़ने की आशंका

लॉकडाउन की वजह से देश में बेरोजगारी बढ़ने की आशंका

लॉकडाउन की वजह से देश में बेरोजगारी बढ़ने की भी आशंका बढ़ गई है। देश में बेरोगजारी की दर 23.4% बढ़ सकती है। लाइव मिंट की खबर के मुताबिक लॉकडाउन की वजह से देश में देश में शहरों में बेरोगजारी की दर ज्यादा होगी। इस तरह के लॉकडाउन परिदृश्य में सबसे गंभीर रूप से प्रभावित क्षेत्र ट्रांसपोर्ट, टूरिज्म, रियल एस्टेट, सर्विसेज, प्रोडक्शन सेक्टर्स को सबसे ज्यादा नुकसान के अनुमान लगाए जा रहे हैं। रेलवे, एयरलाइंस, बसें सब बंद है। लॉकडाउन की वजह से दवा, गैस, बिजली और मेडिकल उपकरणों को छोड़कर पहली तिमाही में अन्य उद्योगों पर नकारात्मक असर पड़ने वाला है।

देश पर कोरोना का इफेक्ट

देश पर कोरोना का इफेक्ट

वहीं फिक्की की अध्यक्ष संगीता रेड्डी के मुताबिक लॉकडाउन की वजह से पिछले 21 दिनों के लॉकडाउन में देश की अर्थव्यवस्था को रोजाना 40,000 करोड़ का नुकसान उठाना पड़ रहा है। पिछले लॉकडाउन में भारत को करीब 8 लाख करोड़ का नुकसान हो चुका है। उनके मुताबिक लॉकडाउन के कारण अर्थव्यवस्था को रोज 40 हजार करोड़ का नुकसान हो रहा है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Coronavirus Impact on Economy: In 3 week Economic Loss from Lockdown at Rs 4.8 lakh Crore: IIT Bombay.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X