• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

राहत भरी खबर: इन बैंकों ने ब्याज दरों में की कटौती, जानिए आपकी जेब पर पड़ेगा कितना असर?

|

नई दिल्ली। अगर आप बैंक ऑफ इंडिया, यूको बैंक या फिर यूनियन बैंक के ग्राहक हैं तो ये खबर आपके लिए बेहद जरूरी है। ये आपके लिए राहत भरी खबर है। आरबीआई द्वारा रेपो रेट में कटौती किए जाने के बाद अब इन बैंकों ने भी रेपो रेट आधारिक लेंडिंग रेट में कटौती कर दी है। बैंक द्वारा रेपो बेस्ड लेंडिंग रेट में कटौती किए जाने के बाद आपके लिए इन बैंकों से कर्ज लेना सस्ता होगा।

लॉकडाउन 5 के पहले ही दिन लगा जोरदार झटका, महंगा हुआ LPG गैस सिलेंडर, जानिए नई कीमतलॉकडाउन 5 के पहले ही दिन लगा जोरदार झटका, महंगा हुआ LPG गैस सिलेंडर, जानिए नई कीमत

 इन बैंकों के खाताधारकों को मिला लाभ

इन बैंकों के खाताधारकों को मिला लाभ

बैंक ऑफ इंडिया, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया और यूको बैंक ने अपने ग्राहकों को राहत दी है। बैंक ऑफ इंडिया और यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने आईबीएलआर रेट में 0.04 फीसदी की कटौती की है। तो वहीं बैंक ऑफ इंडिया ने ब्याज दरों में 0.25 फीसदी की कटौती की है। ब्याज दर में की गई कटौती से लोन सस्ता होगा और आप पर कर्ज का बोझ हल्का हो जाएगा।

 जानिए नई ब्याज दरें

जानिए नई ब्याज दरें

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने ब्याज दर में 40 बेसिक प्वाइंट की कटौती की है, जिसके बाद अब नई ब्याज दर घटकर 6.80 फीसदी हो गई है। नई दरें आज से यानी 1 जून 2020 से लागू हो गई है। वहीं यूको बैंक ने भी ब्याज दर में 40 बेसिक प्वाइंट की कटौती की है, जिसके बाद नई दर 6.90 फीसदी हो गई है। नई दरें 1 जून से लागू हो गई है। बैंक द्वारा ब्याज दर में कटौती किए जाने के बाद 1 जून से खुदरा और एमएसएमई लोन फीसदी सस्ता हो गया है। वहीं क ऑफ इंडिया ने भी ब्याज दर में 0.25 फीसदी की कटौती की है। बैंक ऑफ इंडिया द्वारा ब्याज दर में कटौती किए जाने के बाद से इस बैंक से होम लोन ऑटो लोन और MSME द्वारा लोन लिया जाना सस्ता हो गया है। बैंक द्वारा 1 जून 2020 से 7.95 फीसदी ब्याज दर हो गया।

RBI ने घटाए रेपो रेट

RBI ने घटाए रेपो रेट

आपको बता दें कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने 22 मई 2020 को रेपो रेट में कटौती की थी। RBI ने रेपो दर को 0.40 प्रतिशत घटा दिया, जिसके बाद ये घटकर 4 प्रतिशत हो गया। आपको बता दें कि आम जनता को राहत देने के लिए केंद्रीय बैंक ने ये फैसला लिया। वहीं बैंक ऑफ इंडिया द्वारा ब्याज दर में कटौती किए जाने के बाद बैंक लोन जैसे होम लोन, ऑटो लोन, पर्सनल लोन के साथ-साथ MSME सेक्टर के लिए लोन सस्ता हो जाएगा और EMI का बोझ घटेगा।

English summary
If you are a Union Bank of India or Bank of India customer, then you should know the new interest rates that have come into effect from 1 June
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X