• search
भोपाल न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

Vidisha Kurwai : मरम्मत के रुपयों से CM राइज स्कूल में बनवाई मजार, आयुक्त ने मुस्लिम प्राचार्य को किया निलंबित

|
Google Oneindia News

विदिशा, 7 अक्टूबर। विदिशा जिले के कुरवाई में सरकारी स्कूल में मजार बनाने का मामला सामने आया है। सीएम राइस स्कूल परिसर में मुस्लिम वर्ग की तत्कालीन प्राचार्य शायना फिरदौस ने सरकारी खर्चे पर चबूतरे को मजार बना दिया। इतना ही नहीं मुस्लिम समाज के लोग जुमे वाले दिन यानी शुक्रवार को वहां पर नमाज भी पढ़ने लगे। मुस्लिम विद्यार्थियों को इस दिन विशेष अवकाश भी दिया जाता था। जिसकी शिकायत होने के बाद स्कूल शिक्षा विभाग ने जांच की और गुरुवार की शाम लोक शिक्षण आयुक्त अभय वर्मा ने शायना को निलंबित कर दिया। आखिरकार कैसे एक सरकारी स्कूल परिसर में प्राचार्य ने मजार बनवा दी और स्कूल शिक्षा विभाग को इसकी भनक तक नहीं लगी । जानिए पूरा मामला

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग के अध्यक्ष ने किया स्कूल का मुआयना

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग के अध्यक्ष ने किया स्कूल का मुआयना

मामले में राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग के अध्यक्ष भी गुरुवार को कुरवाई पहुंचे और उन्होंने स्कूल का मुआयना किया। उन्होंने स्कूल को धर्म विशेष का केंद्र बनाने के लिए जिला शिक्षा अधिकारी की उदासीनता को जिम्मेदार बताया। उन्होंने कहा अगर समय रहते जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा स्कूल की ओर ध्यान दिया जाता तो इस तरह का ये मामला सामने नहीं आता।

अधिकारियों ने की मामले को छिपाने की कोशिश

अधिकारियों ने की मामले को छिपाने की कोशिश

विदिशा के कुरवाई में स्कूल में मजार बनने की जानकारी जिला शिक्षा विभाग को बहुत पहले मिल चुकी थी। बताया जा रहा है कि अगस्त के पहले सप्ताह में ये जानकारी मिल गई थी, मगर अधिकारियों ने मामले को छुपाते हुए बीआरसी के माध्यम से गोपनीय जांच कराई और रिपोर्ट संयुक्त संचालक को भेज दी। इसके बाद जिला शिक्षा अधिकारी अतुल मुद्गल ने तत्कालीन प्राचार्य फिरदौस का तबादला कुरवाई से पठारी हाई सेकेंडरी स्कूल में कर दिया।

अब तक नहीं हटाया गया अवैध निर्माण

अब तक नहीं हटाया गया अवैध निर्माण

तबादला होने के बाद भी साइना फिरदौस ने अब तक कार्यभार ग्रहण नहीं किया था। जिला शिक्षा अधिकारी मुद्गल ने बताया कि उन्होंने 31 अगस्त को स्कूल परिसर से मजार हटाने के लिए कलेक्टर को पत्र लिखा था, लेकिन अब तक निर्माण नहीं हटाया गया। उन्होंने बताया कि फरवरी 2022 में प्रचार ने स्कूल की मरम्मत के लिए मिली राशि से स्कूल में चबूतरे का निर्माण कराया और चबूतरे को मजार का स्वरूप दे दिया।

स्कूल में कक्ष में होती थी नमाज

स्कूल में कक्ष में होती थी नमाज

बाल संरक्षण अधिकार आयोग के अध्यक्ष प्रियंक कानूनगो ने स्कूल का निरीक्षण करने के बाद बताया कि इसी स्कूल में परिसर में लंबे समय तक धर्म विशेष पर आधारित गतिविधियां संचालित होती रही और शिक्षा विभाग के अधिकारी अनजान बने रहे। उन्होंने शिक्षकों और विद्यार्थियों से बातचीत के आधार पर बताया कि तत्कालीन प्रचारिणी नमाज पढ़ने के लिए कक्ष आवंटित कर रखा था मुस्लिम शिक्षक हर शुक्रवार इसमें नमाज अदा करते थे। इस मौके पर मुस्लिम विद्यार्थियों को विशेष अवकाश भी दिया जाता था। उन्होंने जांच के दौरान जिला शिक्षा अधिकारी के उपस्थित नहीं होने पर नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि आयोग डीईओ और बीईओ को नोटिस जारी करेगा। इधर कुरवाई एसडीएम अंजलि शाह ने भी मुख्यालय पर नहीं रहने वाले शिक्षकों को नोटिस जारी करने की बात कही है। उन्होंने कहा है कि स्कूल परिसर में बने अवैध निर्माण को सिर काटा जाएगा।

फिल्मी गीत ऐ मालिक तेरे बंदे पर होती थी प्रार्थना

फिल्मी गीत ऐ मालिक तेरे बंदे पर होती थी प्रार्थना

कुरवाई के इस स्कूल में पढ़ने वाले छात्रों ने बाल अधिकार आयोग के अध्यक्ष प्रियंक कानूनगो और मीडिया कर्मियों को बताया कि प्रचार ए फिरदोस के रहते हुए स्कूल में फिल्मी गीत ऐ मालिक तेरे बंदे हम की प्रार्थना होती थी राष्ट्रगान सिर्फ गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस पर होता था।

ये भी पढ़ें : शिक्षा के मंदिर में बर्तन धोने को मजबूर हैं छोटे-छोटे बच्चे, राजगढ़ में मध्यान भोजन का वीडियो वायरल

Comments
English summary
Vidisha Kurwai: Mazar built in CM Rise School with repair money, Muslim principal suspended
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X