UP-PCS 2017: बदल गए हैं पीसीएस भर्ती के नियम, बेरोजगार छात्र जरूर पढ़ें

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

इलाहाबाद। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग अब विवादों से बचने की कवायद में जुटा है। आयोग अपनी छवि चमकाने के लिए परीक्षाओं को और अधिक पारदर्शी बनाना चाह रहा है, जिसके लिए कुछ नियमों में बदलाव किए गए हैं। यह बदलाव आयोग की सबसे ज्यादा पसंदीदा भर्ती यूपी पीसीएस में पहली बार देखने को मिलेंगे। जो अभ्यर्थी इस बार यूपी पीसीएस परीक्षा में शामिल हो रहे हैं। वह इन नये नियमों को अवश्य जान लें।

ये हैं बदले हुए नियम

ये हैं बदले हुए नियम

1- पीसीएस प्रारंभिक परीक्षा में जो बड़े बदलाव हैं, उनमे सबसे महत्वपूर्ण है कि इस बार प्रतियोगियों से ओएमआर की कार्बन कॉपी नहीं ली जाएगी, बल्कि अभ्यर्थी उसे अपने साथ घर ले जा सकते हैं।

2- पीसीएस परीक्षा का पेपर गहन सुरक्षा में होगा। पेपर की सील सीसीटीवी कैमरे या वीडियो कैमरे के सामने खोली जाएगी।

3- पीसीएस परीक्षा खत्म होने के तत्काल बाद कैमरे के सामने ही पेपर वापस जांच के लिए रखे जाएंगे।

मोबाइल फोन किसी भी रूप में प्रतिबंधित

मोबाइल फोन किसी भी रूप में प्रतिबंधित

4- पीसीएस परीक्षा में इस बार परीक्षार्थियों को सघन तलाशी से गुजरना पड़ेगा। तलाशी के बाद ही परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र में प्रवेश मिलेगा।

5- परीक्षा कक्ष के अंदर स्विच ऑफ मोबाइल भी परीक्षार्थी अपने पास नहीं रख सकेंगे। मोबाइल फोन किसी भी रूप में प्रतिबंधित रहेगा।

6- हर परीक्षा केंद्र पर अतिरिक्त सुरक्षा व निगरानी के लिए रिकार्डिंग भी कराई जाएगी।

21 जिलों में होगी परीक्षा

21 जिलों में होगी परीक्षा

यूपी पीसीएस प्रारंभिक परीक्षा-2017 काफी खास है, क्योंकि योगी सरकार में हो रही इस भर्ती में ओवर ऐज हो चुके प्रतियोगियों को भी मौका मिला है। मसलन सीसैट से प्रभावित अभ्यर्थी। ऐसे में अभ्यर्थियों की संख्या में इजाफे के साथ पारदर्शी परीक्षा का भारी दबाव आयोग पर है। इस बावत लोक सेवा आयोग इलाहाबाद कार्यालय पर सभी 21 जिलों के अपर जिलाधिकारियों के साथ नए नियम साझा किए गए। साथ ही नई व्यवस्थाओं के तहत परीक्षाओं को शांतिपूर्ण एवं निर्विवाद तरीके से संपन्न कराने के निर्देश दिए गए हैं।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
UP PCS examinations rules changed, see new recruitment format.
Please Wait while comments are loading...