विदेश में करना चाहते हैं मेडिकल की पढ़ाई, तो पहले देनी होगी NEET की परीक्षा

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। विदेश में मेडिकल की पढ़ाई करने के इच्छुक छात्रों को भी अब नीट की परीक्षा पास करनी होगी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (MCI) के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। अब छात्रों को विदेश में मेडिकल की पढ़ाई करने के लिए नीट ही छात्रों के लिए एलिजीबिलिटी सर्टिफिकेट का काम करेगा।

NEET

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, 'यह देखने में आया है कि विदेश के मेडिकल संस्थान/ विश्वविद्यालय भारतीय छात्रों को उचित शिक्षा या शैक्षणिक योग्यता के बिना मेडिकल में छात्रों को ले लेती है। यही कारण है कि अधिकतर छात्र स्क्रीनिंग टेस्ट में फेल हो जाते हैं।' इसलिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने विदेशी संस्थानों और विश्वविद्यालयों में दाखिले के लिए नीट की परीक्षा में पास होना अनिवार्य कर दिया है।

इस साल 6 मई को आयोजित होने वाली परीक्षा में उन छात्रों को भी बैठना होगा जो विदेश के कॉलेजों में दाखिला लेना चाहते हैं। नीट का स्कोर कार्ड उनके एलीजिबिलिटी सर्टिफिकेट के तौर पर काम करेगा। इसके बिना छात्र विदेशी कॉलेज में एडमिशन नहीं ले पाएंगे। फिलहाल छात्रों को भारत में प्रैक्टिस करने के रजिस्ट्रेशन के लिए फॉरेन मेडिकल ग्रेजुएट्स परीक्षा (FMGE) पास करनी होती है। ये परीक्षा छात्र विदेश में अपनी एमबीबीएस की डिग्री पूरी करने के बाद देते हैं।

FMGE के नतीजे कभी-कभी काफी बेकार आते हैं। इसलिए इस बार से स्वास्थ्य मंत्रालय ने नीट की परीक्षा अनिवार्य कर दी है जिससे योग्य उम्मीदवार ही विदेशी कॉलेजों में एडमिशन ले पाएं। हर साल लगभग 2 से 3 हजार छात्र मेडिकल की पढ़ाई के लिए विदेशी कॉलेजों का रूख करते हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के ज्वाइंट सेक्रेटरी अरुण सिंघल ने कहा कि FMGE को लेकर छात्रों की शिकायत थी कि परीक्षा काफी मुश्किल होती है। इसलिए परीक्षा की समीक्षा के लिए एक्सपर्ट की एक टीम गठित की गई लेकिन उन्हें परीक्षा मुश्किल नहीं लगी। ये छात्रों और उनकी पढ़ाई के बारे में काफी कुछ जाहिर करता है।

ये भी पढ़ें: CBSE ने NEET की परीक्षा में अनिवार्य किया आधार कार्ड, केवल इन राज्यों को छूट

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
NEET Compulsory For Students Who Wants To Study In Foreign Medical Colleges And Universities.

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

X