• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

Venus Transit Scorpio: शुक्र का वृश्चिक में प्रवेश , क्या होगा आपकी राशि पर असर?

शुक्र संवत 2079 मार्गशीर्ष कृष्ण तृतीया 11 नवंबर 2022 शुक्रवार को रात्रि में 8 बजकर 10 मिनट पर स्वराशि तुला को छोड़कर मंगल की राशि वृश्चिक में प्रवेश करेगा।
By Gajendra Sharma
Google Oneindia News

Venus Transit Scorpio: प्रेम, दांपत्य सुख, भौतिक सुख-सुविधाओं, ग्लैमर और धन-संपदा आदि का प्रतिनिधि ग्रह शुक्र संवत 2079 मार्गशीर्ष कृष्ण तृतीया 11 नवंबर 2022 शुक्रवार को रात्रि में 8 बजकर 10 मिनट पर स्वराशि तुला को छोड़कर मंगल की राशि वृश्चिक में प्रवेश करेगा। शुक्र 5 दिसंबर 2022 तक इसी राशि में गोचर करेगा। इस प्रकार शुक्र 25 दिन वृश्चिक राशि में रहेगा।

Venus Transit Scorpio:

वृश्चिक राशि में गोचर का प्रभाव

वृश्चिक राशि का स्वामी मंगल है जो शुक्र के साथ सम व्यवहार करता है। अर्थात् मंगल-शुक्र न तो शत्रु हैं और न मित्र। किंतु जन्मकुंडली में जब-जब शुक्र और मंगल किसी भाव में एक साथ बैठते हैं तो ये प्रेम और यौन संबंधों पर जबर्दस्त तरीके से प्रभाव डालते हैं। वर्तमान में शुक्र-मंगल साथ तो नहीं बैठेंगे किंतु मंगल की राशि वृश्चिक में शुक्र का जाना प्रेम संबंधों को प्रगाढ़ करेगा। जिन लोगों का यौन जीवन खराब चल रहा है उन्हें इसका लाभ मिल सकता है। साथ ही नए प्रेम संबंध, विवाहेत्तर संबंध भी बन सकते हैं।

शुक्र-मंगल का सम-सप्तक योग

शुक्र के वृश्चिक राशि में जाने से गोचर में शुक्र और मंगल का सम-सप्तक योग बनेगा। अर्थात् दोनों ग्रह एक-दूसरे से सप्तम रहेंगे। शुक्र वृश्चिक में और मंगल वृषभ राशि में गोचर कर रहा है। इसी के साथ दोनों ग्रह एक-दूसरे की राशि में ठीक आमने-सामने स्थित हो जाएंगे। यह स्थिति भौतिक सुख-सुविधाओं, भूमि, भवन की प्राप्ति करवाएगी। कर्ज मुक्ति की स्थिति भी इस दौरान बन सकती है। हालांकिशुक्र के वृश्चिक में प्रवेश करने के दो दिन बाद ही 13 नवंबर को मंगल वक्री हो जाएगा। जिस कारण फलों में कुछ न्यूनता आ सकती है लेकिन फिर भी लाभ बना रहेगा।

राशियों पर प्रभाव

  • मेष : मेष राशि के लिए शुक्र का गोचर अष्टम भाव में होगा। शारीरिक कष्ट में कमी आएगी, संपत्ति की प्राप्ति होगी। गुप्त विद्याओं की ओर रूझान बढ़ेगा। आर्थिक स्थिति में लाभ होगा किंतु कोई यौन रोग आ सकता है।
  • वृषभ : वृषभ राशि के लिए शुक्र का गोचर सप्तम भाव में होगा। प्रेम संबंधों और दांपत्य के लिए शुभ है। आपसी तालमेल बनेगा। साझेदारी के कार्यो में लाभ प्राप्त होगा। नए कार्य प्रारंभ कर सकते हैं। अविवाहितों के विवाह की बात बन जाएगी।
  • मिथुन : आपकी राशि में शुक्र छठे भाव में गोचर करेगा। रोग और शत्रु शांत होंगे किंतु आपको सफेद और ठंडी चीजें खाने से बचना होगा। आर्थिक स्थिति ठीक रहेगी। कोर्ट-कचहरी के मुकदमों में जीत मिलेगी। खर्च की अधिकता रहेगी।
  • कर्क : शुक्र आपकी राशि से पंचम में गोचर करेगा। शिक्षा-संतान के लिए समय ठीक है। जिन दंपतियों को अब तक संतान सुख नहीं मिला है उन्हें प्राप्त होने के योग हैं। एकादश पर शुक्र की दृष्टि होने से आय के साधन भी प्राप्त होंगे। सुख प्राप्त होगा।
  • सिंह : शुक्र चतुर्थ में गोचर करेगा और इसकी दृष्टि दशम भाव पर होगा। समय बहुत श्रेष्ठ है। भौतिक सुखों में वृद्धि होगी। नई आय प्राप्त होगी। कार्य में बदलाव का समय भी है। मातृ पक्ष की ओर से धन लाभ की संभावना। कर्ज मुक्ति होगी।
  • कन्या : तृतीय भाव में शुक्र का गोचर और भाग्य भाव पर दृष्टि सुखों की प्राप्ति करवाएगी। धन लाभ होगा। निवेश से लाभ। भाई-बहनों की ओर से सुख प्राप्त होगा। पैतृक संपत्ति प्राप्त होने के योग भी हैं। भाग्य को बल मिलने से कार्य संपन्न होंगे।
  • तुला : द्वितीय धन भाव में शुक्र का आना लाभप्रद है। कई साधनों से धन की प्राप्ति होगी। वाणी का प्रभाव मिलेगा और आपके आकर्षण प्रभाव में वृद्धि होगी। शुक्र इसी राशि का स्वामी भी है इसलिए यौन और प्रेम संबंध विशेषतौर पर प्रगाढ़ होंगे।
  • वृश्चिक : शुक्र लग्न भाव में बैठकर सीधे सप्तम को देख रहा है। दांपत्य जीवन में खुशहाली आने वाली है। मंगल पर सीधी दृष्टि होने से प्रेम संबंध बनेंगे, विवाहेत्तर संबंध भी बन सकते हैं। अविवाहितों के विवाह की बात बनेगी। व्यापार में लाभ होगा।
  • धनु : द्वादश भाव में शुक्र का गोचर होना और उसकी दृष्टि छठे भाव पर होना शुभ नहीं है। रोग और शत्रु परेशान करेंगे। कर्ज लेने की नौबत आ सकती है। रक्त से संबंधित रोग परेशान करेंगे। आर्थिक स्थिति गड़बड़ा सकती है। सांपत्तिक विवाद होगा।
  • मकर : एकादश भाव में शुक्र का गोचर नौकरी और व्यापार में लाभ तो देगा किंतु शिक्षा के क्षेत्र में अधिक उपलब्धि प्राप्त नहीं कर पाएंगे। संतान को कष्ट हो सकता है। हां प्रेम संबंधों में जरूर गर्माहट आ सकती है। पुराना प्रेम लौट सकता है।
  • कुंभ : दशम भाव में शुक्र बैठकर चतुर्थ को देख रहा है। यहां दोनों ही ओर से लाभ मिलता दिख रहा है। संपत्ति सुख तो मिलेगा ही आजीविका के साधनों में भी विशेष लाभ प्राप्त होगा। शारीरिक और मानसिक कष्ट कम होंगे। दांपत्य सुखद होगा।
  • मीन : भाग्य भाव में शुक्र का आना अत्यंत लाभदायक है। भाग्य प्रबल होगा। अटके हुए कार्य संपन्न होंगे। आर्थिक मजबूती प्राप्त होगी। नए कार्य प्राप्त होंगे। भाई-बहनों से संबंध सुधरेंगे। दांपत्य और यौन जीवन सुखद होगा। नए प्रेम संबंध बनेंगे।

Chandra Grahan 2022: मेष राशि में लगेगा चंद्रग्रहण, जानिए जीवन पर क्या पड़ेगा प्रभाव?Chandra Grahan 2022: मेष राशि में लगेगा चंद्रग्रहण, जानिए जीवन पर क्या पड़ेगा प्रभाव?

Comments
English summary
Venus Transit Scorpio on November 11, know what will be the effect on your zodiac, here is full details.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X