• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

Shukra Margi: शुक्र होंगे मार्गी , इसी दिन बुध का होगा उदय

By Pt. Gajendra Sharma
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 25 जनवरी। धनु राशि में वक्री चल रहा शुक्र 29 जनवरी 2022 को दोपहर 2 बजकर 15 मिनट पर मार्गी हो रहा है। शुक्र 19 दिसंबर 2021 को वक्री हुआ था। शुक्र प्रेम, सौंदर्य, आकर्षण, संबंधों, दांपत्य, लग्जरी वस्तुओं आदि का प्रतिनिधि ग्रह है। शुक्र के वक्रत्व काल में जो लोग प्रेम संबंधों में धोखा, अनदेखी, अपमान, परेशानी आदि का सामना कर रहे थे, उन्हें शीघ्र ही अच्छी खबर मिलने वाली है। शुक्र के मार्गी होते ही रिश्तों में सुधार आएगा। प्रेम संबंध एक बार फिर पटरी पर आएंगे और जीवनसाथी या प्रेमी-प्रेमिका के साथ बिगड़े संबंध सुधर जाएंगे। इसके साथ ही जिन लोगों का कास्मेटिक्स, ज्वेलरी, लग्जरी वस्तुओं का बिजनेस है उन्हें भी जल्द ही उनके कार्यो में उन्नति होती दिखाई देगी।

Shukra Margi: शुक्र होंगे मार्गी , इसी दिन बुध का होगा उदय

द्वितीय और सप्तम भाव का स्वामी

जन्म कुंडली में शुक्र द्वितीय और सप्तम भाव का स्वामी होता है। वर्तमान में शुक्र नवम भाग्य भाव में वक्री चल रहा है जो 29 जनवरी से मार्गी हो जाएगा। द्वितीय भाव धन और वाणी का स्थान होता है। यहां शुक्र का मार्गी होना धन की आवक बढ़ाएगा, आर्थिक स्थिति में सुधार लाएगा। अपनी वाणी के माध्यम से यदि आपने किसी का अपमान किया है, किसी का बुरा किया है तो उससे बात करें संबंधों में सुधार आ जाएगा। पैसों की कमी के कारण जो काम आपके अटके हुए थे, वे भी गति पकड़ेंगे और शीघ्र ही आप एक समृद्ध जीवन की ओर बढ़ने लगेंगे।

Vivah Muhurat 2022: ये हैं शुभ-विवाह मुहूर्तVivah Muhurat 2022: ये हैं शुभ-विवाह मुहूर्त

शुक्र सप्तम भाव का भी स्वामी होता

इसी तरह शुक्र सप्तम भाव का भी स्वामी होता है। सप्तम भाव दांपत्य, प्रेम, संबंधों और साझेदारी का स्थान है। शुक्र के मार्गी होने से आपके बिगड़े संबंध सुधरने लगेंगे और आप एक अच्छे रिश्ते बनाने की ओर अग्रसर होंगे। प्रेम संबंध एक बार फिर मजबूत बनेंगे। जो दूरी आ गई है वह भी पट जाएगी। दांपत्य जीवन में मधुरता आएगी। साझेदारी के बिजनेस में लाभ होने लगेगा।

बुध का उदय भी 29 जनवरी को

29 जनवरी 2022 को प्रात: 9.50 बजे पूर्व दिशा में बुध का उदय होगा। ग्रहों में राजकुमार कहलाने वाले बुध के अस्तकाल में व्यापार-व्यवसाय मंदा हो गया। बौद्धिक कार्य, लेखन-पठन करने वालों को परेशानी आई लेकिन अब बुध के उदय होने से बिजनेस भी गति पकड़ेंगे। नए कार्य प्रारंभ करने का यही सही समय होगा। जन्मकुंडली में बुध तीसरे और छठे भाव का स्वामी होता है। इसलिए इन दोनों भावों से जुड़े फलों में शुभता प्राप्त होगी।

Comments
English summary
Shukra Margi From January 29: Mercury will rise on this day, read details here.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X