• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Dussehra 2018: जानिए क्यों मनाते हैं दशहरा और क्या है रावण दहन का शुभ मुहूर्त

|

नई दिल्ली। बुराई पर अच्छाई का प्रतीक दशहरा पर्व 19 अक्टूबर को है, धार्मिक उल्‍लास के साथ मनाई गई दुर्गा पूजा के बाद अब विजयदशमी यानी दशहरे के लिए पूरा देश तैयार है। दशहरे के मद्देनजर देश भर में सुरक्षा के पुख्‍ता इंतजाम किए गए हैं। इस मौके पर रावण दहन अलग-अलग जगहों में अलग अलग तरीकों से किया जाता है।

शुभ मुहूर्त

शुभ मुहूर्त

  • विजयदशमी पूजन का मुहूर्त
  • 08:20 से 10:30 बजे तक लग्न पूजन
  • 11:24 से 12:32 बजे तक अभिजीत मूहूर्त
  • दहन का शुभ मुहूर्त:- शुक्रवार को दोपहर 2.57 बजे से शाम 4.17 बजे

यह भी पढ़ें: Palmistry: हथेली में मंगल पर्वत की विशेषता

दशहरे के दिन ही मां ने महिषासुर का वध किया था

दशहरे के दिन ही मां ने महिषासुर का वध किया था

मां दुर्गा ने महिषासूर से लगातार नौ दिनो तक युद्ध करके दशहरे के दिन ही उसका वध किया था। इसीलिए नवरात्रि के बाद इसे दुर्गा के नौ शक्ति रूप के विजय-दिवस के रूप में विजया-दशमी के नाम से मनाया जाता है।

दशहरा-नवरात्र पर स्पेशल कवरेज के लिए क्लिक करें

क्या है दशहरे का मतलब?

क्या है दशहरे का मतलब?

जबकि भगवान श्रीराम ने नौ दिनो तक रावण के साथ युद्ध करके दसवें दिन ही रावण का वध किया था, इसलिए इस दिन को भगवान श्रीराम के संदर्भ में भी विजय-दशमी के रूप में ही मनाते हैं। साथ ही इस दिन रावण का वध हुआ था, जिसके दस सिर थे, इसलिए इस दिन को दशहरा यानी दस सिर वाले के प्राण हरण होने वाले दिन के रूप में भी मनाया जाता है।

यह भी पढ़ें: Vastu Tips: वास्तु-द्वार निर्णय कैसे करें?

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Dussehra (Vijaya Dashami, Dasara, or Dashain) is a Hindu festival that celebrates the victory of good over evil.here is date time and Shubh Muhurat.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X