• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

अन्नदाताओं ने बहाया पसीना, धान की बंपर फसल से भरेंगे अन्न भंडार, इस राज्य में 71 लाख टन खरीद का लक्ष्य

ओडिशा सरकार ने धान की बंपर पैदावार के अनुमान के बीच इस खरीफ मार्केटिंग सीजन में 71 लाख टन धान की खरीद का लक्ष्य रखा है। odisha paddy production 71 lakh tonne procurement target
Google Oneindia News

भुवनेश्वर, 04 अक्टूबर : मानसून अभी भी सक्रिय है। ओडिशा में कुल फसल की स्थिति सामान्य है। इस खरीफ सीजन में धान की बंपर पैदावार होने की संभावना है। फसल के लिए पूरी तरह तैयार है। कृषि और खाद्य उत्पादन निदेशालय को जिलों से भेजी गई रिपोर्टों में कहा गया है कि कुछ इलाकों से मध्यम से कम तीव्रता के कीटों के हमले की सूचना है। इनको छोड़कर धान की शुरुआती, मध्यम और देर से पकने वाली फसलें शानदार स्थिति में हैं।

odisha paddy production 71 lakh tonne

पतझड़ धान (शुरुआती किस्म) पूरी तरह तैयार है। इसकी कटाई एक सप्ताह के भीतर शुरू हो जाएगी। मध्यम और देर से पकने वाले धान की फसल पुष्पगुच्छ और जुताई की अवस्था में है। कृषि और खाद्य उत्पादन निदेशालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि मौसम विभाग (आईएमडी) के पूर्वानुमान के अनुसार आने वाले दिनों की बारिश से फसल को काफी मदद मिलेगी।

सूत्रों ने कहा कि सितंबर में 13 फीसदी कम बारिश हुई थी। अगले कुछ दिनों में कम दबाव के कारण पूरे राज्य में बारिश की भविष्यवाणी की गई है। ये बारिश किसानों के लिए फायदेमंद साबित होगी। राज्य सरकार ने बंपर फसल की उम्मीद में एक अक्टूबर से शुरू हो रहे इस खरीफ विपणन सत्र में 71 लाख टन धान की खरीद का लक्ष्य रखा है।

ये भी पढ़ें- भारत में पहली बार ! Amit Shah Jammu Kashmir में बोले- पहाड़ी समुदाय को जल्द ही एसटी रिजर्वेशनये भी पढ़ें- भारत में पहली बार ! Amit Shah Jammu Kashmir में बोले- पहाड़ी समुदाय को जल्द ही एसटी रिजर्वेशन

Comments
English summary
Odisha set for another bumper paddy harvest. Naveen Patnaik Govt eying on 71 lakh tonne paddy procurement.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X