• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

Jharkhand: अगर स्कूल से बाहर होकर लगाई हाजिरी तो अनुपस्थित माने जाएंगे शिक्षक

Jharkhand: अगर स्कूल से बाहर होकर लगाई हाजिरी तो अनुपस्थित माने जाएंगे शिक्षक
Google Oneindia News

Jharkhand News झारखंड सरकार यह सुनिश्चित करने जा रही है कि सरकारी स्कूलों में निर्धारित समय तक न केवल बच्चे बल्कि शिक्षक भी उपलब्ध रहें। समय पर शिक्षक और बच्चे स्कूल आएं और समय पर ही स्कूलों में छुट्टी हो। इसे लेकर शिक्षकों को न केवल ई-विद्यावाहिनी पोर्टल पर उपस्थिति बनाना अनिवार्य होगा, बल्कि उन्हें स्कूल में जाकर ही उपस्थिति बनाना होगा। अपने घर से या स्कूल से बाहर किसी जगह से उपस्थिति बनाने पर शिक्षक अनुपस्थिति पाए जाएंगे।

Jharkhand News

एक जनवरी से लागू होगी ये व्यवस्था
इसके लिए स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग ने ई-विद्यावाहिनी पाेर्टल पर पहली बार जियो फेंसिंग सिस्टम को जोड़ा है। सभी सरकारी स्कूलों की जियो फेंसिंग की गई है, जिसके तहत स्कूल या स्कूल के 50 या 100 मीटर की दूरी तक ही शिक्षक ई-विद्यावाहिनी पर अपनी उपस्थिति बना सकेंगे। इससे बाहर उपस्थिति बनाने पर सिस्टम उसे नहीं लेगा। इसे एक जनवरी से लागू किया जाएगा।

नई व्यवस्था को समझने के लिए शिक्षकों को दिया जाएगा समय
इससे पहले एक माह शिक्षकों को नई व्यवस्था को समझने के लिए समय दिया जाएगा। इस अवधि में स्कूलों में नई व्यवस्था का परीक्षण भी हो सकेगा। नई व्यवस्था में शिक्षक कनेक्टिविटी का भी बहाना नहीं बना सकेंगे, क्योंकि कनेक्टिविटी नहीं होने पर भी सिस्टम उसे ले लेगा। बाद में कनेक्टिविटी मिलने पर सिस्टम उसे अपडेट कर लेगा। शिक्षक जब स्कूल छोड़ेंगे उस समय भी उन्हें ई-विद्यावाहिनी पर पंच करना होगा, जिससे पता चलेगा कि शिक्षक कबतक स्कूल में रहे।

नई व्यवस्था से उपस्थिति नहीं बनाने पर नहीं मिलेगा जनवरी से वेतन
ई-विद्यावाहिनी पोर्टल के माध्यम से उपस्थिति नहीं बनानेवाले शिक्षकों को जनवरी माह से वेतन भुगतान नहीं होगा। स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग ने सभी शिक्षकों को इसकी सूचना अखबार के माध्यम से देगा। इसमें नई व्यवस्था को अनिवार्य किए जाने की जानकारी दी जाएगी।

इस तरह की होती थी गड़बड़ियां
कुछ शिक्षक अपने घरों से ही उपस्थिति बना लेते थे। बाद में स्कूल पहुंचते थे। इसी तरह, निर्धारित समय से पहले स्कूल से निकल जाते थे तथा घर जाकर छुट्टी के समय उसे पोर्टल पर दर्ज कर देेते थे। अब जियो फेंसिंग होने से शिक्षक इस तरह की गड़बड़ियां नहीं कर सकेंगे।

शिक्षा सचिव का क्या है कहना
झारखंड सरकार के स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग के सचिव के. रवि कुमार का कहना है कि शिक्षकों का ई-विद्यावाहिनी से उपस्थिति बनाना अनिवार्य होगा। पहली बार जियो फेंसिंग की भी व्यवस्था लागू की जा रही है। इस व्यवस्था से उपस्थिति नहीं बनानेवाले शिक्षकों को जनवरी माह से वेतन भुगतान नहीं किया जाएगा।

Comments
English summary
jharkhand: mandatory for govt teacher to make attendence on e vidyavahini portal
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X