दीदी की हत्या का गवाह बनी छोटी बहन की जान को खतरा

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

बलिया। रागिनी हत्याकांड जिसने पूरे यूपी को हिलाकर रख दिया, अब नया सितम दे रही है। हत्याकांड के बाद रागिनी की छोटी बहन सिया को हत्याकांड के मुख्य आरोपी प्रिंस के दोस्तों ने धमकी देना शुरू कर दिए है। स्कूल जाते समय प्रिंस के दोस्त सिया के पास आए और कहने लगे की 'नहीं मानोगी क्या, जाओगी क्या बहन के पास'। इस घटना के बाद रागिनी के घर वाले खौफजदा हो चुके हैं और रागिनी के पिता अब अपना गांव छोड़कर जाने की बात कह रहे हैं।

Girl threatened to keep quiet on Murder

गांव छोड़ने को तैयार हो चुके हैं रागिनी के पिता

मृतक रागिनी के पिता जितेंद्र दुबे कहते हैं की बड़ी बेटी की मनचलों ने 17 साल में ही गला रेत कर हत्या कर दी। थानों से लेकर एसपी ऑफिस के चक्कर लगाए, लेकिन मुख्य आरोपी प्रिंस के अलावा साथी आरोपी अभी भी खुलेआम घूम रहे हैं। यही नहीं उन्होंने कहा की इस समय उनके गांव बलिया के बासडीह के बड़े बुरे हालत हैं। ऐसे में मुझे अब अपना गांव छोड़कर जाना ही होगा। एक बेटी को तो दरिंदों ने बीच सड़क पर खुलेआम मौत के घाट उतार दिया लेकिन अभी तीन बेटियां और भी हैं। अगर दूसरी को कुछ हो गया तो मैं जीते जी मर जाऊंगा। बता दें कि रागिनी हत्याकांड में सिया ही चश्मदीद गवाह भी है। जितेंद्र दुबे कहते हैं कि भले ही मेरी बेटी की हत्या करने वाला प्रिंस सलाखों के पीछे है लेकिन आपराधिक लोगों को जेल में रहने से कोई फर्क नहीं पड़ता। ऐसे गुनहगारों को ऐसी सजा मिले की लड़कियों को छेड़ने के पहले वो अपनी सजा के बारे में सोचें।

Girl threatened to keep quiet on Murder

आरोपी के साथी कहते हैं 'जाओगी क्या बहन के पास?'

जितेंद्र दुबे ने कहा कि उनकी 17 साल की बेटी रागिनी की प्रिंस, कृपाशंकर, सोनू तिवारी, नीरज तिवारी ने महज इसलिए हत्या कर दी थी कि उसने छेड़छाड़ का विरोध किया। 8 अगस्त को जब रागिनी और सिया स्कूल के लिए निकलीं तो बदमाशों ने उसे रास्ते में रोक लिया और छेड़छाड़ का विरोध करने पर उसकी चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी। अब ठीक एक महीने बाद 8 सितंबर को छोटी बेटी स्कूल से आते समय जब बस से उतरी तो प्रिंस के दोस्त दीपू यादव ने बाइक रोककर उसे घूरा, उसके चक्कर काटे, फिर डराते हुए बोला- 'जाओगी क्या बहन के पास।' वो दहशत के मारे भागती हुई घर आई और कांपने लगी।

Girl threatened to keep quiet on Murder
Girl threatened to keep quiet on Murder

क्या कहती है पुलिस?

वहीं बासडीह के थानाध्यक्ष बृजेश शुक्ला ने OneIndia से बात करते हुए कहा की रागिनी की बहन सिया और उसके पिता जितेंद्र दुबे शिकायत लेकर मेरे पास आए थे। उनकी FIR भी दर्ज कर ली गई और आरोपी दीपू यादव को गिरफ्तार भी कर लिया गया है। यही नहीं पुलिस ने जितेंद्र दुबे की सुरक्षा में उनके घर पर दो सिपाही भी तैनात कर दिए हैं।

Read more: पुलिस बनने का ख्वाब देखने वाली को दरिंदगी कर मार डाला

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Girl threatened to keep quiet on Murder
Please Wait while comments are loading...