चंद्रशेखर पर UP पुलिस ने लगाई रासुका, भीम आर्मी ने प्रशासन को दी खुली चेतावनी

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

सहारनपुर। सहारनपुर दंगों के आरोपी चंद्रशेखर उर्फ रावण पर रासुका की कार्रवाई के बाद भीम आर्मी सेना के पदाधिकारियों ने प्रशासन को खुली चेतावनी दी है। भीम आर्मी सेना (भीम आर्मी एकता मिशन) के पदाधिकारियों ने कहा कि यदि चंद्रशेखर उर्फ रावण से रासुका नहीं हटाई गई तो 9 नवंबर से भूख हड़ताल की जाएगी। इतना ही नहीं इन्होंने यह भी कहा है कि यदि इस दौरान पुलिस या प्रशासन ने उन्हें ऐसा करने से रोका तो जेल भरो अंदोलन किया जाएगा। खास बात यह है कि इस बार भीम आर्मी सेना अकेली नहीं है। जारी प्रेस नोट में इन्होंने यह भी कहा है कि इनके साथ मुस्लिम और पुरा दलित समाज भी है। भीम आर्मी सेना के पदाधिकारियों ने दावा किया है कि 9 नवंबर से शुरू होने जा रही भूखहड़ताल में सिर्फ भीम आर्मी सेना के पदाधिकारी और सदस्य ही नहीं होंगे, बल्कि मुस्लिम और दलित समाज के लोग भी होंगे।

चंद्रशेखर पर UP पुलिस ने लगाई रासुका, भीम आर्मी ने प्रशासन को दी खुली चेतावनी

भीम आर्मी ने प्रदेश सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि जिस तरह से चंद्रशेखर उर्फ रावण पर रासुका की कार्रवाई की गई है, वह ठीक नहीं है। इन लोगों ने आरोप लगाया है कि प्रशासन मौजूदा सरकार के हाथों की कठपुतली बना हुआ है और सरकार के इशारे पर ही दलितों और मुस्लिमों का दमन का प्रयास किया जा रहा है। भीम आर्मी सेना के पदाधिकारियों के मुताबिक वह जेल में चंद्रशेखर से उनकी सेहत का हाल जानने के लिए गए थे। वहां जाकर पता चला कि पुलिस प्रशासन की ओर से भीम आर्मी सेना के संस्थापक चंद्रशेखर उर्फ रावण को राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत निरुद्ध कर दिया गया है। इस पर भीम आर्मी सेना के पदाधिकारी और मीडिया प्रभारी गौतम ने कहा कि यह सरकार गरीबी को खत्म करने की बात करती थी, लेकिन अब देखने में यह आ रहा है कि यह सरकार तो गरीबों को ही खत्म करने में लगी हुई है।

खास बात यह है कि इस बार भीम आर्मी सेना ने राष्ट्रीय स्तर पर आंदोलन यानी भूख हड़ताल करने की बात कही है। इतना ही नहीं भीम आर्मी सेना के पदाधिकारियों का यह भी कहना है कि अगर चंद्रशेखर से रासुका नहीं हटी तो इस बार केवल भीम आर्मी ही नहीं, बल्कि पूरे देश में दलित और मुस्लिम इसका विरोध करेंगे। कप्तान बबलू कुमार का इस मामले में कहना है कि यदि किसी ने भी माहौल बिगाडऩे का प्रयास किया तो उस पर सख्ती से कार्रवाई की जाएगी। चंद्रशेखर उर्फ रावण पर राष्ट्र विरोधी कार्य करने के आरोप में कई मुकदमे दर्ज हैं इसी के चलते उस पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून अधिनियम के तहत निरोधात्मक कार्यवाही की गई है।

ये भी पढ़ें- लोन सस्‍ते करने के बाद SBI ने ग्राहकों को दिया बड़ा झटका

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
bhim army will go on hunger strike if up police impose nsa act on founder chandrasekhar
Please Wait while comments are loading...